विदेशों में राजस्थानी विद्यार्थियों की मदद के लिए आगे आए डॉ. सतीश पूनियां

-विदेशों में पढ़ रहे राजस्थानी विद्यार्थियों से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां और विदेश राज्य मंत्री वी.मुरलीधरन ने किया संवाद, राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री श्री वी सतीश ने भी किया विद्यार्थियों से संवाद, विदेशों से राजस्थानी विद्यार्थियों की सकुशल वापसी के लिए लगातार प्रयासरत हैं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां, डॉ. सतीश पूनियां विदेश मंत्रालय से बनाए हुए हैं संवाद

नेशनल दुनिया, जयपुर।

विदेशों में पढ़ाई कर रहे राजस्थानी विद्यार्थियों की सकुशल वापसी के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां लगातार प्रयासरत हैं, इसको लेकर वे विदेश मंत्रालय से लगातार संवाद बनाए हुए हैं।

गुरुवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां और राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी सतीश ने विदेश राज्य मंत्री वी.मुरलीधरन के साथ विदेशों में पढ़ रहे राजस्थानी छात्रों और उनके अभिभावकों से वीडियो कांफ़्रेसिंग के माध्यम से संवाद किया।


डॉ. सतीश पूनियां, वी मुरलीधरन, वी सतीश ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विदेशों में पढ़ाई कर रहे राजस्थान के विद्यार्थियों से संवाद किया। जिसमें यूके, कारागंडा, अलमाटी, स्ताना, दुशाम्बे (कजाकिस्तान), मनीला (फिलीफीन्स), सिंगापुर, किर्गिस्तान, कजाकिस्तान सहित कई देशों में रह रहे राजस्थान के विद्यार्थी जुड़े।

जिन्होंने वतन वापसी सहित कई प्रमुख मुद्दों पर अपनी बातें व समस्याएं रखीं। इस दौरान कई विद्यार्थियों के माता पिता भी राजस्थान के विभिन्न जिलों से जुड़े, जिन्होंने भी अपनी बात रखी।


इस दौरान जयपुर और आमेर के बच्चों की भी विदेशों से वापसी को लेकर विदेश राज्यमंत्री को अवगत कराया गया, जिन्होंने सभी बच्चों एवं माता-पिता, एवं परिजनों को आश्वस्त किया है कि सभी को सकुशल भारत लाया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  हनुमान बेनीवाल का महापड़ाव दूसरे दिन भी जारी, मांगे नही माने जाने तक जारी रहेगा आंदोलन


वीडियो कांफ्रेंसिंग में विदेशों में पढ़ाई कर राजस्थान के विद्यार्थियों में सिंगापुर से मनस्वी राठौड़, यूके से दीपिका, फिलीपीन्स से सागर अग्रवाल, अंकुर डांगी, भरत शेखावत, हिमांशु धाकड़ सहित कई विद्यार्थियों ने अपनी बातें एवं समस्याएं रखीं।

साथ ही फिलीपीन्स में पढ़ाई कर रहे हरियाणा निवासी दीपक जागलान ने खुद सहित सभी विद्यार्थियों की समस्याएं रखीं, बता दें कि जागलान वहां सभी राज्यों के बच्चों को कॉर्डिनेट कर रहे हैं।


वहीं विदेशों में पढ़ाई कर रहे राजस्थान के कई विद्यार्थियों के माता-पिता एवं परिजनों ने प्रदेश के विभिन्न जिलों से जुड़कर बातें रखी।

जिनमें जोधपुर से शंभु सिंह, नागौर से मुकेश भार्गव, जयपुर से निर्मल शेरावत, जयपुर से बी.डी. यादव, जयपुर से रोशन सैनी, डॉ. दीपक सक्सेना, अलवर से वेदप्रकाश शर्मा, सीकर से रूपसिंह पलसाना, नंद बिजारणियां सहित तमाम परिजन जुड़े।


डॉ. सतीश पूनियां ने बताया कि प्रदेश से हजारों छात्र दुनिया के अनेक देशों में पढ़ रहे हैं। कोरोना महामारी से उपजे हालतों के बाद वे वहां लॉकडाउन में फंस गए हैं, उनके परिजन उनको लेकर चिंतित है।

यूएस, यूके, कजाकिस्तान, फ़िलीपींस, सिंगापुर, किर्गिस्तान सहित कई देशों में बड़ी संख्या में राजस्थानी छात्र रह रहे हैं।
विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने विद्यार्थियों एवं उनके परिजनों से संवाद कर विशेष व्यवस्था कर सुरक्षित भारत वापस लाने का आश्वासन दिया है।

उन्होंने छात्रों और उनके परिजनों को बताया कि खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्षों से इस मामले में बात कर रहे हैं, सभी भारतीयों को गाइडलाइन के मुताबिक चरणबद्ध तरीके से सकुशल भारत लाया जाएगा।


उन्होंने कहा कि, भारत सरकार ने केंद्रीय स्तर के अधिकारी को इसके समन्वय के लिए लगाया है। इन छात्रों को सहूलियत से स्वदेश लाने के बाद राज्य सरकारों के सुपुर्द किया जाएगा, जो इनका मेडिकल चेकअप करवाएंगी, उसके बाद उन्हें क्वारंटाइन करेगी।

यह भी पढ़ें :  बैंक अकाउंट मोबाइल सिम और दाखिले के लिए जरूरी नहीं है आधार

इन छात्रों से कहा गया है कि वे सम्बंधित देशों के दूतावास से सम्पर्क में रहें। भारत सरकार क्रमिक रूप से उनको लाने की व्यवस्था कर रही है।


वीडियो कांफ्रेंसिंग में विदेश राज्य मंत्री ने विद्यार्थियों एवं उनके परिजनों से संवाद करते हुए कहा कि भारत सरकार इस संकट के समय में पूरी तरह से उनके साथ है, और उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी।


वीडियो कांफ्रेंसिंग में ओवरसीज फ्रेंडस ऑफ भाजपा यूके के अध्यक्ष कुलदीप शेखावत, द राजस्थान एसोसियशन यूके के श्री हरेन्द्र सिंह जोधा ने लंदन में भारतीयों एवं राजस्थानियों के लिए किए जा रहे राहत कार्यों की जानकारी दी।

उन्होंने ये कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यों की दुनियाभर में प्रशंसा हो रही है, जो सभी देशवासियों की हमेशा चिंता करते हैं। शेखावत एवं जोधा ने प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पूनियां की राजस्थानियों के लिए किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की।


डॉ. सतीश पूनियां ने राजस्थानी छात्रों और उनके परिजनों की ओर से विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन का आभार व्यक्त किया।

उल्लेखनीय है कि इसी साल मार्च में डॉ. सतीश पूनियां ने विदेशों में रह रहे प्रदेश के विद्यार्थियों को लेकर दिल्ली में विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मुलाकात की थी।

इस दौरान उन्होंने विदेश मंत्री को विद्यार्थियों की समस्याओं से अवगत कराया था। जिसके बाद विदेश मंत्रालय ने विदेशों में रहने वाले भारतीयों के लिए हेल्पलाइन शुरू करवाई।