राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने टिड्डी दलों की आवक पर जताई चिंता, केंद्र से की शीघ्र नियंत्रण के कारगर कदम उठाने की मांग

बाड़मेर : राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने पश्चिमी राजस्थान में टिड्डी दलों के आने पर चिंता व्यक्त की है।
उन्होंने केंद्र सरकार को जल्द ही योजना बनाकर टिड्डी नियंत्रण के लिए कार्य करने का अनुरोध किया हैं।
राजस्व मंत्री चौधरी ने बताया कि वे राज्य व केंद्र के कृषि विभाग एवं टीडी नियंत्रण विभाग के अधिकारियों, यूनाइटेड नेशन्स के खाद्य एवं कृषि संगठन के साथ लगातार संपर्क में हैं एवं वे जल्दी ही क्षेत्र का दौरा करेंगे।

किसानों पर दोहरी मार
राजस्व मंत्री ने बताया कि वर्तमान में आ रहे टिड्डी दलों से किसानों को भारी नुकसान हो रहा है। टिड्डी दल फसलों के साथ ही मवेशियों के लिए जमा जमा किए हुए एवं खेतों में उत्पादित हो रहे हरे चारे को पूरी तरह नष्ट कर किसानों पर दोहरी मार कर रहे हैं।

केंद्र करे पहल
राजस्व मंत्री ने बताया कि वे लगातार प्रधानमंत्री एवं कृषि मंत्री को टिड्डी नियंत्रण के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहल करने के लिए मांग करते आ रहे हैं और कुछ दिन पूर्व ही उन्होंने प्रधानमंत्री को टिड्डी दलों की आवक के वर्तमान हालातों से अवगत करवाया था।

किसानों का सहयोग
राजस्व मंत्री ने बताया कि पिछले वर्ष टिड्डी प्रकोप की स्थिति में बाड़मेर एवं जैसलमेर जिलों में किसानों ने स्वयं के संसाधनों का उपयोग कर प्रशासन के साथ मिलकर टिड्डी नियंत्रण का कार्य अपने स्वयं के सिस्टम एवं तरीकों से किया था, उस समय मैं स्वयं भी काफी दिन किसानों के साथ रहा था।

कोरोना व टिड्डी दोहरी मार
राजस्व मंत्री चौधरी ने कहा है कि इस बार जो टिड्डी आ रही है वह ऐसे समय में आ रही है जब किसान की कमर पहले से ही कोरोना महामारी ने तोड़ दी है और किसान इस स्थिति में नहीं है कि वह टिड्डी प्रकोप का सामना करना कर सके। इसलिए केंद्र सरकार को जल्द ही योजना बनाकर टिड्डी नियंत्रण के लिए कारगर कार्य करना होगा। इसके लिए सबसे पहले तो सीमावर्ती जिलों में आए टिड्डी दलों को नियंत्रित करना होगा साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बात करके टिड्डी दलों के प्रजनन स्थल पर ही उन्हें नष्ट करने की योजना पर कार्य करना होगा, जब तक यह कार्य नहीं होगा तब तक इन टिड्डी दलों का आना ऐसे ही जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल की सोशल मीडिया पर हूंकार, टॉप ट्रेंड में रहा #WeSuppprtHanumanBeniwal