गृह जिले तक आने के इच्छुक सभी प्रवासियों को सरकार दे दो की छूट – राजस्व मंत्री चौधरी 

जयपुर / बाड़मेर । राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र भेजकर अपने गृह जिले में आने के इच्छुक सभी प्रवासी व्यापारियों और मजदूरों को लॉक डाउन अवधि में रियल की सुविधा देने की मांग की है। राजस्व मंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री का ध्यान केंद्रीय गृह सचिव द्वारा सभी राज्यों को तिथि 3 मई 2020 को प्रेषित पत्र की ओर आ इष्टतम करते हुए कहा है कि गृह मंत्रालय द्वारा लोक डाउन अवधि में वर्तमान में दी गई नई की सुविधा केवल उन्हीं प्रवासी श्रमिकों या अन्य लोगों पर लागू की है जो लॉक डाउन अवधि से पहले अपने कार्यस्थल से प्रस्थान हो गए थे और अपने नए स्थान तक नहीं पहुंच पाए थे। में फसे हुए हैं।

राजस्व मंत्री ने गृह मंत्री से अनुरोध किया है कि लॉक डाउन शुरू होने से बिल्कुल पहले या बाद में जो लोग छोड़ गए थे, उनके अलावा इनसे भी कहीं अधिक लाखों लोग ऐसे हैं जो अपने कार्यस्थल पर हैं और उनमें से ज्यादातर दैनिक कार्य करने वाले का। रोजगार बिल्कुल छिन गया है और उनके खाने पीने का बहुत बड़ा संकट हो गया है। उन्होंने लिखा है कि reg में आने के लिए लाखों प्रवासियों ने पंजीयन करवाया है और वे सभी रेटिंग आने के इच्छुक हैं और भरपूर प्रयास भी कर रहे हैं।

राजस्व मंत्री ने पत्र में लिखा है कि देश में आर्थिक स्थिति के सुधार के लिए सरकार द्वारा अब औद्योगिक और अन्य आर्थिक कार्यों को आरंभ किए जाने पर जोर दिया जाएगा लेकिन मैं आपको आगाह करना चाहूंगा कि यह जो मजदूर वर्ग है या व्यापारी वर्ग है वह पिछले डेढ़ माह से ताला डाउन में है और अपने घर परिवार से दूर है मानसिक रूप से & आर्थिक रूप से बुरी तरह प्रताडित हो गया है। इसलिए इनसे सटीक किसी कार्य में संलिप्त होकर काम करने की अपेक्षा करना मुश्किल है।

राजस्व मंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री से अनुरोध किया है कि सभी प्रवासी जो अपने गृह जिले तक जाना चाहते हैं, वे सभी को लॉक डाउनलोड अवधि में शब्द की छूट प्रदान करें।

यह भी पढ़ें :  मुहाना मंड़ी का स्वर्ण विहार बना अवैध निर्माण का गढ़