जन समस्याओं का प्राथमिकता से निस्तारण हो सरकार की प्राथमिकता – बेनीवाल 

-आरएलपी की डिजिटल संवाद की कड़ी मे आज पार्टी संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने की जयपुर संभाग के जिलो की समस्याओ व विकास के मुद्दो पर चर्चा 
Jaipur / Alwar / Dausa / Sikar / Jhunjhnu- राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी द्वारा संभागवार डिजिटल संवाद की कड़ी मे शुक्रवार  को आरएलपी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने जयपुर संभाग के अलवर, जयपुर, सीकर, झूँझनू व दौसा जिले की समस्याओ व सुझाओ पर लाइव आकर चर्चा की |

बेनीवाल ने संभाग के सभी जिलो की बिजली, पानी व सड़को की समस्या पर बोलते हुए उनके निस्तारण के लिए सरकार से बात करने का आश्वासन दिया |

सांसद ने छात्रो द्वारा विभिन्न अधूरी भर्तीयो को पूरा करने को लेकर आए सुझाव व माँग पर भी अपनी बात रखी वही निजी शिक्षण संस्थानो के मालिको से 3 माह की फीस माफ़ करने व शैक्षणिक स्टाफ की सेलेरी देने तथा होस्टल संचालको व पीजी सँचालको को फीस के लिए छात्रो को परेशान नही करने की अपील की |

सांसद ने कहा की राजधानी का समय के हिसाब से सतत विकास होना चाहिए मगर आज भी कई बड़े मुद्दे जिनसे राजधानी पीड़ित है उन्हे चुनी हुई सरकारो को गौर करने की ज़रूरत है।

उन्होने रामगढ़ बाँध पर अतिक्रमण के मुद्दे के साथ मेट्रो परियोजना मे चोपड़ से लेकर सीतापुरा तक विस्तार करने व पर्यटन से जुड़ी लोगो के लिए पैकेजे देने की माँग की साथ ही दैनिक मज़दूरी के लिए सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार न्यूनतम वेतन  राज्य सरकार के सभी संविदा कार्मिको के लिए और निजी क्षेत्रो के लिए लागू करने की अपील सरकार से की |

यह भी पढ़ें :  अश्लील फिल्म देखकर 13 साल के भाई व 15 साल की बहन ने बनाये शरीरिक सम्बन्ध, लड़की 6 माह की गर्भवती हुई

सांसद ने सीएम गहलोत पर टिपन्नी करने हुए कहा की जयपुर का रामगंज कोरोना का हॉट स्पॉट बन गया , लेकिन मुख्यमंत्री बंद कमरे में 4 ब्यूरोक्रेट की रिपोर्ट पढ़ कर इतिश्री कर लेते है, जबकि उन्हे खुद रामगंज क्षेत्र में व्याप्त अव्यवस्थाओं का आकलन करने के लिए स्वयं निरीक्षण करना चाहिए।

साथ ही सीएम से अपील करते हुए कहा कि प्रत्येक मुद्दे पर केंद्र को दोष देने की बजाय खुद की सरकार के मंत्रियों द्वारा महामारी में भी की जा रही राजनीति पर संज्ञान लेने की जरूरत है।

उन्होने राजस्थान के 13 जिलों के लिए केंद्र में लंबित ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट को राष्ट्रीय परियोजना घोषित कर आवश्यक धन राशि उपलब्ध कराने जयपुर जिले के  कालख बाँध, छापरवाडा बांध आदि के संरक्षण व नदी से जोड़ने के मुद्दे पर भी बात की साथ किसानो को दूध व सब्जी का सही भाव नही मिलने पर उत्पन्न स्थिति पर भी चर्चा की।

जयपुर के पृथ्वीराज नगर योजना मे भू- माफियाओ के बोलबाले सहित अतिक्रमण के कई मुद्दो पर सरकार पर सवालिया निशान खड़े किए वही राजस्थान यूनिवर्सिटी को सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा देने की माँग पीएम के समक्ष उठाने की बात भी कही।

सांसद ने संभाग के अलवर जिले के भिवाड़ी व निमराना क्षेत्र मे उध्योगो की स्थिति, स्थानीय को रोज़गार का अभाव तथा ईएसआईसी अस्पताल परियोजना को पूरी करवाने व सरिस्का बाघ पर्यटन योजना को गति देने तथा मत्स्य यूनिवर्सिटी मे भर्ती को लेकर चल रही एसिबी जाँच शीघ्रता से पूर्ण करने की माँग पर बात की साथ ही दौसा जिले की सार्वजनिक समस्याओ पर प्रकाश डालते हुए उनके निस्तारण का भरोशा दिलाया।

यह भी पढ़ें :  पिंकी चौधरी आज ही के दिन....जानिए पिंकी प्रधान की शादी और लव स्टोरी

उन्होने राज्य सभा सांसद किरोडीलाल मीणा के साथ किए जन आंदोलनो का ज़िक्र करते हुए डॉकटर मीणा के कार्यो की तारीफ़ भी की।

झूँझनू जिले से जयपुर -दिल्ली से चलने वाली ट्रेन को नियमित करवाने व सीकर जिले मे भी ट्रेन की कनेक्टिविटी बढ़ाने की माँग, नीम का थाना व अन्य क्षेत्रो से अवेध खनन से हो रहे पर्यावरण नुकसान व कोटपुतली मे सीवर लाईन की स्वीकृति को लेकर को लेकर आए सवालो पर जवाब देते हुए पार्टी का पक्ष रखा |

सांसद ने  झूँझनू जिले मे  घोषित खेल विश्वविद्यालय को वर्तमान राज्य सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से सुचारू रूप से चालू रखने की भी माँग की साथ ही शेखावाटी यूनिवर्सिटी मे भी सुधार की माँग की।