इरफ़ान खान: ‘गीता रहस्य’ का वो खूंखार विलेन, जो आज भगवान श्रीकृष्ण को भी याद आया!

नेशनल दुनिया

महाभारत धारावाहिक के बाद साल 1996 से लेकर 1999 तक गीता रहस्य नामक एक और धारावाहिक बना, जिसमें भगवान श्री कृष्ण का किरदार निभाया था।

fb img 15881485421406971596200021766201

महाभारत में भगवान श्रीकृष्ण बनने वाले नीतीश भारद्वाज ने इस धारावाहिक का निर्देशन भी खुद नितीश भारद्वाज नहीं किया था। नितीश भारद्वाज के निर्देशन में यह पहला धारावाहिक था।

fb img 15881485473947618736004551690427

इस धारावाहिक की खास बात ये थी कि जो वेलेन बना था, वह अभिनेता बाद में मशहूर होकर दुनिया भर में इरफान खान के नाम से पहचाना गया।

इरफान खान का आज 53 साल की उम्र में मुंबई के एक मशहूर हॉस्पिटल में इंतकाल हो गया है।

fb img 15881485344181315343889832763440

पूरा देश जब उनको श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है तब खुद भगवान श्रीकृष्ण यानी नीतीश भारद्वाज ने इरफान खान के साथ निभाया अभिनय और उनके साथ बिताए गए पल को बेहतरीन बताते हुए कुछ इन शब्दों में व्यक्त किया है।

“इरफान खान का निधन हो गया मुझे उदास छोड़कर हम सब में एक रवि बस्वानी से स्थिर। 1996 से 1999 डायरेक्टोरियल डेब्यु सीरियल गीता रहस्य का विलेन स्टार।”

images 2020 04 29t140622207258625537537307.

“जिन्होंने अपने तीव्र इलेक्ट्रिक प्रदर्शन और जादुई अभिव्यक्तियों से सजाया। विश्व सिनेमा के लिए बहुत बड़ा नुकसान है। भगवान उनकी आत्मा को सद्गति दें और शांति मिले।”

उल्लेखनीय है कि गीतारहस्य नामक पुस्तक की रचना लोकमान्य बालगंगाधर तिलक ने माण्डले जेल में की थी। इसमें उन्होने श्रीमदभगवद्गीता के कर्मयोग की वृहद व्याख्या की।

images 2020 04 29t1406421332259519990894951.

उन्होंने इस ग्रन्थ के माध्यम से बताया कि गीता चिन्तन उन लोगों के लिए नहीं है, जो स्वार्थपूर्ण सांसारिक जीवन बिताने के बाद अवकाश के समय खाली बैठ कर पुस्तक पढ़ने लगते हैं।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल बोले: "नागौर का मान तो बढ़ गया, जब विश्व की सबसे बड़ी पार्टी के घटक दल का उम्मीदवार बन गया"