डॉ पूनियां और बेनीवाल के सवाल पर पस्त हुए अशोक गहलोत सरकार के मंत्री रघु शर्मा

-स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा को सांसद हनुमान बेनीवाल का सवाल, आजादी से पूर्व की व्यवस्थाओं को पनपा कर आखिर क्या संदेश देना चाहते हो?
Jaipur

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा को ट्वीट करके उनके पुत्र द्वारा अजमेर कलेक्टर के समकक्ष प्रेस वार्ता को संबोधित करने के मामले को लेकर सवालिया निशान खड़ा किया।

img 20200421 wa00404843921513293949809

सांसद ने मंत्री को पूछते हुए कहा कि किस प्रोटोकॉल का आधार पर आपके पुत्र ने कलेक्टर के पोर्च में गाड़ी लगाकर कलेक्टर के समकक्ष जिला स्तर की मीटिंग लेकर प्रेस को संबोधित किया?

वहीं, सांसद ने सवालिया लहजे में मंत्री को नसीहत देते हुए लिखा कि लोकतंत्र में आजादी से पूर्व की व्यवस्थाओं को पनपा कर आखिर क्या संदेश आप जनता को देना चाहते हो?

इधर, भाजपाध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां ने कहा, अजमेर कलेक्टर परिसर में सोमवार को चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा के पुत्र सागर शर्मा के सामने जिला प्रशासन बौना नजर आया।

ये तस्वीरें देखिये, ये है सागर शर्मा राजस्थान के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा के पुत्र, जो जिला प्रशासन की प्रेस वार्ता में ऐसे मौजूद हैं, जैसे चिकित्सा मंत्री खुद हो।

screenshot 20200421 113811 twitter6862670805190017265

ताज्जुब की बात तो यह है कि माजरा इतना भर नहीं है। इसके बाद अब ये गाडी और जगह देखिये। ये अजमेर कलेक्टर का पोर्च है, जहाँ या तो मंत्री की गाड़ी खड़ी होती है या फिर कलेक्टर की?

लेकिन राजस्थान के अजमेर में सत्ता का खौफ ऐसा कि चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा के पुत्र सागर शर्मा की गाड़ी के लिए कलेक्टर की गाड़ी ही हट गई और लग गई मंत्री पुत्र सागर शर्मा की गाड़ी।

यह भी पढ़ें :  Loksabha chunav 2019: RLP को मिल सकती है नागौर के अलावा बाड़मेर और भरतपुर की सीट

इस पूरे मामले में राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष सतीश पुनियाँ ने ट्वीट पर पूछा है कि चिकित्सा मंत्री के युवराज की सेवा में अफसर क्यों बिछे हुए है?

img 20200421 wa00085370479035630802048

किस प्रोटोकॉल से वाहन वहाँ मौजूद है?

इसके साथ जिला अध्य्क्ष ने कांग्रेस सरकार पर गंभीर आरोप लगाए है। जिला अध्यक्ष डॉक्टर प्रियशील हाड़ा ने प्रेस नोट जारी कर लिखा है कि अजमेर में मंत्री पुत्र के आगे जिला प्रशासन नतमस्तक है।

भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष ने यह सवाल उठाया है कि आज प्रशासन द्वारा की जाने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस जिसमें जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा, पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप, सीएमएचओ डॉक्टर के के सोनी आदि प्रेस को संबोधित कर रहे थे, उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में किस हैसियत से मंत्री पुत्र ने भाग लिया, किस हैसियत से उनको वहां बैठाया गया, किस हैसियत से उन्होंने मीडिया को संबोधित किया?

जिला अध्यक्ष डॉ हाड़ा ने यह भी सवाल उठाया है कि आज तक जिस स्थान पर जिला कलेक्टर का वाहन खड़ा होता आया है, उस स्थान पर मंत्री पुत्र का वाहन किस हैसियत से उन्हें वहां वाहन खड़ा करने की अनुमति मिली?