कृषकों कि चिंता को देखते हुए मंडी जाने वाले किसानों के लिए सरकार ने उठाया बड़ा कदम देखिए, क्या किए है घोषणा?

अन्नदाताओं को नहीं होने देंगे परेशानी : कटारिया
-किसानों के लिए कंट्रोल रूम स्थापित
नेशनल दुनिया। वैश्विक महामारी कोरोनावायरस केेेेेेेे चलते देशभर में लॉक डाउन चल रहा है।

लॉक डाउन के कारण किसान अपनी फसलें मंडियों में नहीं भेज पा रहे हैं।  इस को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के कृषि विभाग ने किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है।

कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा है कि राज्य सरकार किसानों की हर समस्या को दूर करने के लिए पूरी तरह सजग और सक्रिय है।

जहां अन्नदाताओं को लोक डाउन की अवधि में फसलों की कटाई के लिए थ्रेसर की अनुमति देने की बात हो या तैयार फसलों को मंडियों में बैचने का मामला हो, सरकार किसान हितों में पूरी तरह समर्पित है।

उन्होंने कहा कि किसानों को कोरोना महामारी से विषयों से जुड़े विषयों पर कृषि आयुक्तालय पंत कृषि भवन जयपुर में कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है, जो प्रात: 8 बजे से रात्रि 8 बजे तक काम करेगा। जिसके दूरभाष नम्बर ०141-2227471 एवं कमरा नम्बर 147 है।

कटारिया के अनुसार इस कंट्रोल रूम पर फोन कर किसान कृषि एवं इससे संबंधित विभिन्न गतिविधियों व कोरोना महामारी से जुड़े विषयों से संबंधित जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। किसान व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  निवाई में एनसीपी के सभी 17 पार्षद भाजपा में शामिल