14 C
Jaipur
बुधवार, जनवरी 20, 2021

Video: ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को पुलिस वाले ने जड़ा थप्पड़, हड़ताल की तरफ डॉक्टर

- Advertisement -
- Advertisement -

भरतपुर/जयपुर

एक तरफ जहां प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री और चिकित्सा मंत्री के अलावा देशभर की जनता कोरोनावायरस के खिलाफ अपनी जान जोखिम में डालकर लड़ाई लड़ रहे डॉक्टरों, नर्सिंग कर्मियों, लैब टेक्नीशियन और अस्पतालों में सफाईकर्मियों को कोविड-19 के वॉरियर्स की संज्ञा दे रहे हैं, तो दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन में मौजूद कुछ लोग डॉक्टरों की दिन-रात की मेहनत पर पानी फेरने में तुले हुए हैं।

- Advertisement -Video: ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को पुलिस वाले ने जड़ा थप्पड़, हड़ताल की तरफ डॉक्टर 3

राजस्थान के एक रेजिडेंट डॉक्टर के साथ पुलिसकर्मी द्वारा ड्यूटी खत्म कर घर जाने के दौरान थप्पड़ मारने और अभद्रता करने का मामला सामने आया है। प्रकरण भरतपुर जिले के मेडिकल कॉलेज का है, जिसके एक रेजिमेंट डॉक्टर के साथ पुलिसकर्मियों ने मारपीट की है। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।

वीडियो में रेजिडेंट डॉक्टर फूट-फूट के रो रहे हैं। जानकारी के मुताबिक रेजिडेंट डॉक्टर भरतपुर के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में, जो अपनी कोरोना वार्ड से नाइट ड्यूटी खत्म करके सुबह जब घर जा रहे थे।

रास्ते में नाकाबंदी के दौरान डॉक्टर को पुलिसकर्मी मिले डॉक्टर ने उनको अपनी पहचान बताते हुए आई कार्ड दिखाया, लेकिन एक पुलिसकर्मी द्वारा बिना आई कार्ड देखे जल्दबाजी में डॉक्टर को थप्पड़ मार दिया।

इतना ही नहीं बल्कि जब मामला प्रशासन के पास पहुंचा तो स्थानीय एसडीएम ने उल्टा डॉक्टर को ही धमका दिया। वायरल वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि किस तरह से एसडीएम डॉक्टर पर चिल्ला रहे हैं। एसडीएम संजय गोयल ने चिल्लाते हुए कहा रहे हैं, “अबे चुप हो जा साले।”

प्रकरण को लेकर भरतपुर समेत पूरे प्रदेश भर के रेजिडेंट डॉक्टर्स और प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर भी उग्र हो गए हैं, हालांकि प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि इस मामले को लेकर वार्तालाप की जाएगी लेकिन डॉक्टर मानने को तैयार नहीं हैं।

इस मामले को लेकर प्रेसिडेंट डॉक्टर ने थाने में मुकदमा दर्ज करने के लिए एप्लीकेशन दी है। डॉक्टर की तरफ से दी गई एप्लीकेशन में लिखा गया है कि पुलिसकर्मियों द्वारा की गई, अभद्रता एवं मारपीट को लेकर कार्रवाई की जाए। यह लिखा है एप्लीकेशन में-

“मामले को लेकर निवेदन है कि मैं डॉक्टर सत्येंद्र डागुर पुत्र छितरिया डागुर, अस्पताल (आरबीएमए) अपनी नाइट ड्यूटी करने के बाद सुबह करीब 10:30 बजे के आसपास वापस अपने निवास रेजिडेंशियल हॉस्टल मेडिकल विंग निजी वाहन से आ रहा था। “

“बिजलीघर चौराहे के पास मुझे पुलिसकर्मियों ने रोका, उनके रोकने पर मैंने उनको बताया कि मैं डॉक्टर हूं और आरबीएम अस्पताल से कोरोना वार्ड में अपनी नाइट ड्यूटी करके आ रहा हूं।”

“इस पर उन लोगों ने मेरे से कहा कि तुम खाने का सामान ले जा रहे हो, तुम डॉक्टर नहीं हो। इस पर मैंने अपना परिचय पत्र दिखाने की कोशिश की, तो मैंने मेरे को बोला तुम शक्ल से डॉक्टर नहीं लगते हो और पीछे से एक पुलिसकर्मी ने मेरे थप्पड़ मार दिया।”

“मेरे वाहन को पुलिस थाने ले गए और मेरे से बोला कि तुम बड़े आदमी से बात नहीं कर सकते। कुछ देर बाद मैंने दोबारा रिक्वेस्ट की तो बोला कि मेरे पास टाइम नहीं है।”

इस मामले के बाद पूरे राजस्थान के मेडिकल कॉलेजों के रेजिडेंट डॉक्टर एक हो रहे हैं। डॉक्टर्स ने प्रशासन से कहा है कि जब तक संबंधित पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त एक्शन लेकर निलंबित नहीं किया जाएगा, तब तक कार्य बहिष्कार किए जाने पर विचार किया जा रहा है।

- Advertisement -
Video: ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को पुलिस वाले ने जड़ा थप्पड़, हड़ताल की तरफ डॉक्टर 4
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

संसद की कैंटीन में सांसदों को अब नहीं मिलेगा सस्ता नास्ता-भोजन, 8 करोड़ की बचत होगी

नई दिल्ली। संसद में सांसदों को कैंटीन में खाने में नाश्ते में मिलने वाली सब्सिडी बंद करने की घोषणा कर दी गई है। लोकसभा...
- Advertisement -

संसद की कैंटीन में सांसदों को अब नहीं मिलेगा सस्ता नास्ता-भोजन, 8 करोड़ की बचत होगी

नई दिल्ली। संसद में सांसदों को कैंटीन में खाने में नाश्ते में मिलने वाली सब्सिडी बंद करने की घोषणा कर दी गई है। लोकसभा...

संसद की कैंटीन में सांसदों को अब नहीं मिलेगा सस्ता नास्ता-भोजन, 8 करोड़ की बचत होगी

नई दिल्ली। संसद में सांसदों को कैंटीन में खाने में नाश्ते में मिलने वाली सब्सिडी बंद करने की घोषणा कर दी गई है। लोकसभा...

गहलोत के जंगलराज का जीता-जागता प्रमाण: राठौड़

जयपुर। राजस्थान में अपराध के बढ़ते आंकड़ों के बावजूद राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा कोई कठोर कदम नहीं उठाए जाने के बाद...

Related news

मनीषा डूडी के साथ क्या लव जिहाद हुआ है?

बीकानेर/जयपुर। बीकानेर जिले की कोलायत तहसील के बांगड़सर गांव की 18 वर्ष की मनीषा डूडी ने पिछले दिनों कोलायत के एक गांव के रहने...

जाट-राजपूत एक हुए तो उबला बीकानेर, महिपाल सिंह मकराना ने भरी हुंकार

बीकानेर। बीकाजी की नगरी, बीकानेर में रविवार को उबाल मारती हिंदुओं की युवा सेना ने पुलिस की हालत पतली कर दी। करणी सेना के...

हनुमान बेनीवाल के से डर प्रो. बीएल जाटावत का इस्तीफा, सरकार ने स्वीकारा

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल के डर से राजस्थान अधीनस्थ कर्मचारी चयन बोर्ड के चेयरमैन प्रोफेसर बीएल...

राजस्थान में रात्रिकालीन कर्फ्यू खत्म, मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक में लिया फैसला

जयपुर। कोरोना वायरस के कारण बीते साल मार्च के महीने से चल रहे राजस्थान में कर्फ्यू को लेकर राज्य सरकार पूरी तरह से रियायत...
- Advertisement -