कोविड-19 को लेकर सचिन पायलट का बयान आया सामने

-अक्षय पात्र फाउंडेशन का टोंक के लिए खाद्य सामग्री के एक हजार पैकेट देने पर आभार: पायलट

उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से उनके निवास पर अक्षय पात्र फाउंडेशन का प्रतिनिधि मण्डल मिला तथा कोरोना के कारण देश व प्रदेश में जारी लोकडाउन के चलते अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा गरीब व असहाय लोगों के लिए किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी।

इस अवसर पर अक्षय पात्र की ओर से टोंक के लिए खाद्य सामग्री के एक हजार पैकेट रवाना किये गये। एक किट में पांच किलो आटा, सवा किलो दाल, खाद्य तेल, मसाले, प्याज आदि वितरित किये जा रहे है।

प्रतिनिधि मण्डल ने पायलट को अवगत कराया कि अक्षय पात्र फाउंडेशन की ओर से जनसहयोग के रूप में प्रतिनिधि लगभग 80 हजार लोगों के लिए भोजन तैयार किया जा रहा है तथा कच्ची खाद्य सामग्री के 5 हजार किट बनाकर वितरित किये जा रहे है।

पायलट ने अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा जनकल्याण हेतु चलायी जा रही इस मुहिम सराहना करते हुए टोंक के लिए राहत सामग्री भेजने पर आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जनसहयोग से ही कोरोना का मुकाबला किया जा सकता है।


कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश के लगभग 46 हजार गांवों में से 37 हजार से अधिक में किया गया
दवा का छिड़काव: पायलट

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना महामारी से निपटने के लिए सभी गांवों में प्रभावी तरीके से सोडियम हाइपोक्लोराइट दवा का छिड़काव एवं मास्क का वितरण किया जा रहा है।

पायलट ने बताया कि पंचायती राज संस्थाओं को गांवों में सार्वजनिक स्थलों, भवनों आदि पर दवा का छिड़काव करने तथा मास्क आदि खरीदने के लिए आवंटित राशि से प्रदेश के 46167 गांवों में से लगभग 37 हजार से अधिक गांवों में करीब 7 लाख लीटर दवा का छिड़काव किया जा चुका है।

इसी प्रकार सभी गांवों में करीब 16.50 लाख से अधिक मास्क वितरित किये जा चुके हैं। पायलट ने कहा कि राज्य सरकार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है तथा कोरोना से लड़ने के लिए संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

यह भी पढ़ें :  पिकी चौधरी प्रधान के पति ने रचाई दूसरी शादी, पिंकी आशिक के खिलाफ करवा रही है मुकदमा