70 लाख रुपये में सुमित भगासरा युवा कांग्रेस के अध्यक्ष बने थे: भाकर

Jaipur news

राजस्थान के युवा कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर लाडनूं के विधायक मुकेश भाकर विजयी हुए हैं। कांग्रेस चुनाव प्राधिकरण ने भाकर को लगभग 10 हज़ार मतों से विजेता घोषित किया गया है। इससे 35 दिन पहले एनएसयूआई के पूर्व अध्यक्ष सुमित भगासरा को करीब 34 हज़ार मतों से विजयी घोषित किया गया था।

महज 35 दिन में परिणाम बदलने को लेकर भाकर ने कहा है कि हैकर्स के द्वारा 70 लाख रुपये में सुमित भगासरा परिणाम बदलने के लिए भ्रष्टाचार किया था। उन्होंने कहा है कि उससे पहले हैकर्स ने उनको 50 लाख में पूरा सिस्टम हैक करने का ऑफर दिया था, जिसको उन्होंने अस्वीकार कर दिया था।

इधर, सुमित भगासरा ने कहा है कि मुकेश भाकर ने ब्लैकमेलिंग कर 35 दिन में परिणाम बदल दिया है। उन्होंने कहा है कि पूरा चुनाव दुबारा बैलेट पेपर से करवाया जाना चाहिए। साथ ही परिणाम की जांच करवाई जाए और हैकर्स की बात बेबुनियाद और झूठी है।

3 मार्च के परिणाम में सुमित भगासरा को 46304 वोट मिले थे, जबकि 7 अप्रैल को घोषित किये गए परिणाम में उनको केवल 23464 मत प्राप्त हुए हैं। दूसरे परिणाम में विजेता मुकेश भाकर को 34945 वोट मिले हैं, उनको 3 मार्च के दिन 23349 मत ही प्राप्त हुए थे।

यूथ कांग्रेस के चुनाव और परिणाम को बदलने के लिए हैकिंग की गई थी। कांग्रेस चुनाव प्राधिकरण ने हैकिंग की पुष्टि करते हुए प्रदेश अध्यक्ष समेत चूरू और सीकर जिले के अध्यक्ष का परिणाम भी बदल गया है।

यह भी पढ़ें :  इंदिरा गांधी की तीसरी पीढ़ी ने कहा आपातकाल लगाना एक बड़ी गलती थी