30 C
Jaipur
मंगलवार, सितम्बर 22, 2020

गुर्जर आरक्षण के पक्ष में उतरे हनुमान बेनीवाल, सरकार को करना पड़ा फैसला

- Advertisement -
- Advertisement -

रचना चौधरी@जयपुर।

लगातार 4 दिन से राजस्थान में गुर्जर समाज के द्वारा 5 फ़ीसदी आरक्षण को लेकर किए जा रहे हैं आंदोलन में आज बड़ा फैसला हुआ है।

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और खींवसर से विधायक हनुमान बेनीवाल के द्वारा विधानसभा में पुरजोर तरीके से गुर्जर आंदोलन का समर्थन करके सरकार को चेतावनी देने के बाद जो कि राज्य सरकार ने विधानसभा से प्रस्ताव पास करने का फैसला किया है।

विधायक हनुमान बेनीवाल ने पर्ची के माध्यम से विधानसभा के भीतर गुर्जर आरक्षण को लेकर सरकार को जमकर घेरा।

उन्होंने पूर्ववर्ती सरकारों की भी तीखी आलोचना की और कहा कि प्रदेश में गुर्जर भाइयों को आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए और इसके लिए राज्य विधान सभा को प्रस्ताव पास करके केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को भेजना चाहिए।

इसके बाद सत्ता में आई राज्य सरकार ने आनन-फानन में प्रस्ताव बनाकर केंद्र को भेजने का निर्णय लिया है। बताया जा रहा है कि प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है और कल राज्य विधानसभा में उसको पारित करवा दिया जाएगा।

विधानसभा के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए हनुमान बेनीवाल ने कहा कि गुर्जर समाज की मांग जायज है, और जरूरत पड़ी तो पूरा जाट समाज गुर्जरों के समर्थन में आंदोलन पर उतर जाएगा।

उन्होंने कहा कि विधानसभा के भीतर बीजेपी के लोग आंदोलन की पैरवी कर रहे हैं, लेकिन उनके हाथ 72 गुर्जर भाइयों के खून से रंगे हुए हैं, इसलिए उनको गुर्जर आरक्षण की बात कहने का कोई हक नहीं है।

बेनीवाल ने कहा कि 2003 से लेकर 2008, 2008 से लेकर 2013 और 2013 से लेकर 2018 तक की सरकारों ने गुर्जरों को केवल आश्वासन दिए और झूठे वादे किए हैं, अब समय आ गया है कि उनको 5 फ़ीसदी आरक्षण का लाभ देकर सम्मान दिलाया जाए।

उन्होंने राज्य सरकार को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर गुर्जरों को आरक्षण का लाभ नहीं दिया गया तो पूरा जाट समाज गुर्जर समाज के समर्थन में सड़कों पर उतर जाएगा, जिसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार होगी।

हनुमान बेनीवाल की चेतावनी के बाद सकते में आई राज्य सरकार ने आनन-फानन में फैसला करते हुए कल विधानसभा में गुर्जरों को 5 प्रतिशत आरक्षण का लाभ देने का प्रस्ताव पास करवाने का निर्णय लिया है, उस प्रस्ताव को कानून बनाने के लिए केंद्र सरकार के पास भेजा जाएगा।

- Advertisement -
गुर्जर आरक्षण के पक्ष में उतरे हनुमान बेनीवाल, सरकार को करना पड़ा फैसला 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

आईपीएल-13 : हैदराबाद ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया (लीड-1)

दुबई, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। सनराइजर्स हैदराबाद ने सोमवार को यहां दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ जारी आईपीएल के 13वें सीजन...
- Advertisement -

किसानों को मोदी सरकार की सौगात, रबी फसलों के एमएसपी में इजाफा

नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)। मोदी सरकार ने छह रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में बढ़ोतरी का एलान कर सोमवार को देश...

दिल्ली में कोरोना ऐप पर अपडेट नहीं हो रही बेड और वेंटिलेटर की संख्या: बीजेपी

नई दिल्ली, 21 सितंबर(आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी ने कोरोना से निपटने में दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। भाजपा...

ये काम नहीं है इतना आसान, मोदी को करना है मजबूत किसान : आठवले

नई दिल्ली, 21 सितंबर(आईएएनएस)। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने अपने चिर-परिचित अंदाज में संसद में पास हुए किसानों से...

Related news

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

आईपीएल-13 : कोहली की बेंगलोर के सामने वार्नर की सनराइजर्स

दुबई, 21 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में सोमवार को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर का सामना...

भारत में 18 से 24 वर्ष की 37% महिलाएं रखती हैं लंबे समय तक सैक्स सम्बंध

-भारत में 19% महिलाओं को स्मार्टफोन पर रहती हैं पार्टनर की तलाश, देश की 62% महिलाएं कर रहीं ये काम।

पिंकी चौधरी भागने वाली लड़कियों की रोल मॉडल बनी, चार लड़कियों ने ली प्रेरणा और प्रेमियों के साथ भाग गईं

बाड़मेर/टोंक। पिछले महीने बाड़मेर के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी के घर से भागने और आपने प्रेमी अशोक चौधरी के...
- Advertisement -