भाजपा के कार्यकर्ता करेंगे उपवास, जानिए क्यों कर रहे हैं ऐसा?

-पार्टी का 41 वां स्थापना दिवस कोरोना योद्धाओं को समर्पित, कोरोना योद्धाओं के लिए एक दिन का उपवास करेंगे का तयर्यकर्ता, कार्यालयों और घरों पर एक-एक कार्यकर्ता ध्वजारोहण किया जाएगा।

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी कल 6 अप्रैल को अपना स्थापना दिवस मनाने जा रही है। इस बार का स्थापना दिवस कोरोना संक्रमण से युद्ध लड रहे योद्धाओं को समर्पित किया जायेगा।

पार्टी के कार्यकर्ता सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कल महापुरूषों को अपने घरों में और कार्यालयों में श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे तथा पार्टी का ध्वजारोहण करेंगे। सभी कार्यकर्ता उपवास करके कोरोना योद्धाओं के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और एकजुटता प्रदर्शित करेंगे।

सभी कार्यकर्ता घर में रहकर पार्टी और पार्टी के महापुरूषों से संबंधित साहित्य का अध्ययन करते हुए 40 लोगों से टेलीफोन आदि पर संपर्क करके पीएम केयर फंड में कम से कम 100 रूपए जमा कराने का आग्रह करेंगे।

पार्टी प्रत्येक परिवार तक घर में बने हुए कम से कम दो मास्क पहुंचाने का अभियान चलायेगी। साथ ही पुलिस प्रशासन, चिकित्सा से जुडे हुए लोग, सफाई कर्मचारी, बैंक तथा पोस्ट आफिस एवं अन्य सभी प्रशासनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रति 40 परिवारों से धन्यवाद प्रस्ताव पारित कर सौंपेगी।

प्रमुख बिन्दु
-पार्टी का यह 41 वां स्थापना दिवस है।
– पार्टी कार्यालय और अपने अपने घरों पर कार्यकर्ता प्रातः 10 बजे पार्टी का ध्वज लगाए और डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी जी और पं. दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे।


– पार्टी कार्यालय में ध्वज लगाते समय पार्टी का कोई भी एक पदाधिकारी या कार्यकर्ता रहेंगे। भीड इकठ्ठा नहीं करना है।

यह भी पढ़ें :  छिन सकती है पत्रकारिता विवि के कुलपति ओम थानवी की कुर्सी!


– सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का अनिवार्य रूप से पालन करना है।
– पार्टी के कार्यकर्ता अपने अपने घरों में पार्टी का ध्वज लगायेंगे।
– कार्यकर्ता दोनों कार्यक्रम करते समय वीडियो फुटेज और फोटो भी बना सकते है। उन्हें सोशल मीडिया पर अपलोड करना है।


– स्थापना दिवस पर पार्टी के सभी कार्यकर्ता एक दिन के लिए भोजन का त्याग अर्थात उपवास करेंगे।
– यह उपवास जो लोग इस कोरोना की लडाई में लगे हुए है, उनके साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए करेंगे।


– बूथ स्तर पर जो कार्यकर्ता अपने घरों से पांच जरूरतमंदों को जो भोजन दे रहे है, वे सभी कल स्थापना दिवस पर एक अतिरिक्त भोजन का पैकेट समर्पित करेंगे।


– अगले एक सप्ताह में हर मतदान केन्द्र पर कार्यकर्ता घर में सिले हुए दो मास्क (फेस कवर) सभी जरूरतमंदों तक पहुंचाने का कार्य करेंगे।


– स्थापना दिवस के अवसर पर पार्टी का कार्यकर्ता 40 लोगों से संपर्क कर कोरोना महामारी से निपटने के लिए प्रत्येक व्यक्ति से 100 रूपए पीएम केयर्स फंड में जमा करने के लिए आग्रह करेंगे।


– हर बूथ पर 6 से 8 अप्रैल तक पार्टी के राष्ट्रीय, प्रदेश एवं जिला पदाधिकारी या उस बूथ में रहने वाले सांसद, विधायक और अन्य प्रमुख कार्यकर्ता 40 घरों में संपर्क कर 5 प्रकार के धन्यवाद प्रस्तावों पर हस्ताक्षर करायेंगे और संबंधित विभागों के कार्यालयों में सौपेंगे।


– पहला धन्यवाद प्रस्ताव पुलिस प्रशासन के नाम होगा, जिसे स्थानीय थाने में सौंपा जायेगा।
– दूसरा धन्यवाद प्रस्ताव डॉक्टर्स, नर्स और अन्य स्वास्थ्य कर्मचारियों के प्रति होगा। जिसे स्थानीय चिकित्सालय में सौंपा जायेगा।

यह भी पढ़ें :  हनुमान बेनीवाल और उसकी फौज ईंट से ईंट बजा देगी-


– तीसरा प्रस्ताव सफाई कर्मचारियों के लिए होगा। जिसे स्थानीय नगरपालिका के वार्ड अथवा अन्य कार्यालय में सौंपा जायेगा।
– चौथा प्रस्ताव बैंक और पोस्ट आफिस के अधिकारी, कर्मचारियों के नाम जिसे स्थानीय बैंक अथवा पोस्ट आफिस में सौंपा जायेगा।


– पांचवा प्रस्ताव अन्य सरकारी अधिकारी, कर्मचारियों के नाम पारित कराया जायेगा जो वहां स्थानीय प्रशासनिक कार्यालयों में सौंपा जायेगा।
– कल हम सभी को पार्टी का साहित्य अथवा डॉ. श्यामप्रसाद मुखर्जी, पं. दीनदयाल उपाघ्याय, कुशाभाउ ठाकरे जी जैसे महापुरूषों की जीवनी अथवा उनके कृतित्व से संबंधित अन्य साहित्य का अनिवार्य रूप से अध्ययन करना है।

दीये जलाकर प्रदेशवासियों ने दिखाया संकट से मुकाबले के लिए सामूहिक आत्मविश्वासः सतीश पूनिया

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान को सफल और सार्थक बनाने लिए प्रदेशवासियों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर रात्रि 9 बजे अपने-अपने घरों के दरवाजों, बालकनी में खड़े होकर दीये, टार्च आदि की रोशनी करके प्रदेश के नागरिकों ने देश पर मंडरा रहे संकट के प्रतिकार में सामूहिक आत्मविश्वास की अभिव्यक्ति की है।

उन्होंने कहा कि ऐसा करके प्रदेश के लोगों ने यह जता दिया है कि इस संकट के समय में सब एक साथ हैं और सभी को हर व्यक्ति की चिंता है।

मनोवैज्ञानिक क्षमताओं, आत्मविश्वास में होगी वृद्धि
प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां ने कहा कि सामूहिक रूप से प्रकाश करने के इस कार्यक्रम में जिस उत्साह के साथ प्रदेश के लोगों ने भाग लिया है, उसे देखकर यह कहा जा सकता है कि यह कार्यक्रम हमारे आत्मविश्वास में कई गुना वृद्धि करेगा।

यह भी पढ़ें :  टिड्‌डी नियंत्रण को लेकर समय पर प्रभावी कदम उठाये राज्य सरकार: डॉ. सतीश पूनियां

पूनिया ने आशा जताई कि यह कार्यक्रम कोरोना महामारी के संकट से मुकाबले में हमारी मनोवैज्ञानिक क्षमताओं को भी बढ़ाएगा।

उन्होंने कहा कि आज का यह कार्यक्रम कोरोना वायरस के उपचार में लगे डॉक्टर्स, स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिस तथा प्रशासन के अधिकारियों एवं कर्मचारियों, सफाईकर्मियों और इस लड़ाई में शामिल अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं में उत्साह का संचार करेगा साथ ही इस महामारी पर जीत हासिल करने के लिए आधार तैयार करेगा।


वर्षों बाद देश में जागृत हुई ऐसी चेतना
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आज का दिन भारत के इतिहास में अद्वितीय दिन के रूप में दर्ज हो गया।

जिस देश को हमेशा से सामाजिक व्यवस्था पर अवलंबित देश कहा गया, जिस देश में सामूहिकता सदैव से उसकी शक्ति रही है, उस देश में वर्षो बाद एक ऐसी चेतना जागृत हुई है जिसने प्रत्येक भारतवासी को उसके अस्तित्व का एहसास कराया है।

पूनियां ने कहा कि इस चेतना के केंद्र में प्रधानमंत्री मोदी हैं। मोदी ऐसे प्रधानमंत्री हैं जिनकी विलक्षणता समाज शास्त्र, विज्ञान, इतिहास, अध्यात्म, धर्म सबको एक साथ समेटते हुए हमेशा चिंतनशील रहती है।

आज के भौतिकतावादी युग में मनुष्य के सर्वांगीण विकास का सोच रखना ही अपने आप में दुष्कर कार्य है, ऐसे में हमारे प्रधानमंत्री ने कोरोना जैसे भयानक संकट के बीच लोगों का मनोबल बनाए रखने के लिए जो प्रयास किए हैं, उनको समझ कर हृदय गौरव से भर जाता है।