भाजपा जेल भरो पर अड़िग, सरकार लगाएगी कर्जमाफी के कैंप

Nationaldunia

जयपुर।
राज्य में भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने है। एक ओर जहां भाजपा प्रदेशभर में 8 फरवरी को जेल भरो आंदोलन पर अड़िग है, तो दूसरी ओर राज्य सरकार ने भाजपा की इस रणनीति को फैल करने के लिए 7 फरवरी से 9 फरवरी तक किसान कर्जमाफी के कैम्प लगाने के आदेश जारी कर दिए हैं।

सरकार ने इस बाबत सभी जिला कलेक्टरों को पाबंद किया है कि अपने-अपने जिलों में 5-5 पांच कर्जमाफी शिविर लगाएं और उनमें खुद भी उपस्थित रहें।
इधर, भाजपा अपनी जेल भरो की रणनीति पर काम कर रही है।

भाजपा के शहर अध्यक्ष मोहनलाल गुप्ता का कहना है कि सरकार ने केवल आदेश जारी किए हैं, कर्जमाफ किया नहीं है। जबकि कांग्रेस के अध्यक्ष और खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चुनाव से पहले केवल 10 दिन में किसानों का कर्जामाफ करने का वादा किया था।

अब सरकार बनने के बाद कांग्रेस पार्टी पलट रही है। सरकार ने अभी तक किसी किसान का कर्जामाफ नहीं किया है। सम्पूर्ण कर्जामाफ करने के अपने वादे से भी मुकरकर अपनी ही मर्जी से कर्जमाफी के लिए नियम बना रही है।

इस बीच प्रधानमंत्री की 14 तारीख को प्रस्तावित रैली को लेकर नेताओं को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। अम्बेडकर खेल मैदान में रैली होने की संभावना है।

इससे पहले 10 फरवरी को होने वाली भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली अब पीएम मोदी की रैली के बाद 18 फरवरी को हो सकती है। दोनों नेताओं की रैलियों को लेकर भाजपा की आज अहम बैठक हो रही है।

गौरतलब है कि कांग्रेस ने शासन में आने से पहले प्रदेश के सभी किसानों का कर्जमाफ करने का ऐलान किया था, लेकिन सरकार में आते ही कई तरह के ​बैरिकेट्स लगा दिए, जिनमें अधिकतम 2 लाख रुपए तक का कर्जा, डिफोल्टरों का ही कर्जामाफ करने जैसी बातें शामिल हैं।

यह भी पढ़ें :  राजस्थान विश्वविद्यालय की परीक्षाओं का टाइम टेबल घोषित