हनुमान बेनीवाल की भावुक अपील….परिणाम भारी होंगे

-कहा लोकडाउन की सख्ती से पालना नही हुई तो गंभीर परिणाम हम सबको भुगतने पड़ेंगे
Jaipur /Nagaur

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने शनिवार को अपने फेसबुक पेज के माध्यम से प्रदेश तथा प्रदेश से बाहर रह रहे समर्थकों के साथ संवाद किया सांसद ने उनसे अपील करते हुए कहा कि यह समय धैर्य रखने का है।

क्योंकि देश व राज्य की सरकार ने लोक डाउन हम सबके हित में किया है। क्योंकि सोशियल डिस्टेंस की एक ऐसा माध्यम है, जिससे कोरोना नही फैलता, उन्होंने कहा कि इस कठिन समय में निश्चित तौर पर मजदूरों को समस्या आ रही है।

मगर उनके समाधान के लिए वह लगातार विभिन्न प्रदेशों के सांसदों तथा प्रशासन के संपर्क में है और केंद्र व पड़ोसी राज्यो की सरकारों से भी बात कर रहे है।

उन्होंने प्रवासी भामाशाह से भी अपील करते हुए कहा कि राज्य का कोई भी मजदूर भूखा नहीं रहे, इसकी सुनिश्चितता उन्हें व्यक्तिगत आगे आकर करनी होगी।

उन्होंने सोशल मीडिया पर लोगों द्वारा भेजे गए वीडियो व संदेशों पर भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भावुकता में किसी प्रकार का कोई निर्णय लेकर पैदल या वाहन लेकर कहीं भी नहीं जाए।

क्योंकि इससे हम लोक डाउन की पालना को तोड़ रहे है। साथ ही उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों से भी बात करके बॉर्डर तक आ चुके लोगों को उनके सख्त चिकित्सकीय परीक्षण के बाद गंतव्य तक छोड़ने की भी अपील की।

सांसद ने कोरोना से बचाव को लेकर केंद्र व राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना भी की।

यह भी पढ़ें :  डॉ. सतीश पूनियां की टीम में 75 फीसदी नयों को मिलेगा मौका, ऐसे होगा चयन

सांसद ने कहा कि वह प्रवासी लोगों की पीड़ा को समझ सकते हैं, मगर यह वक्त कठोर निर्णय लेने का है कि हम किसी भी दृष्टि से घर से बाहर नहीं जाए।

ताकि देश को बचाने के लिए जो मुहिम लोक डाउन की पूरे देश में चली है वह सफल हो सके और कोरोना से देश को मुक्ति मिल सके।


सांसद हनुमान बेनीवाल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को एक वीडियो ट्वीट करके बेमौसम बरसात से हुए फसलों के नुकसान की एवज में राहत पैकेजे जारी करने की मांग की।

साथ ही कहा: फसली बीमा कंपनियों को सरकार पाबन्द करके सही समय पर किसानों का मुवावजा दिलवाये।