-तालाबंदी की परिस्थिति में अभाविप द्वारा स्टूडेंट्स हेल्पलाइन जारी, स्थानीय प्रशासन की मदद हेतु इच्छुक छात्रों का करेगा रजिस्ट्रेशन

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के दौरान देशभर में तालाबंदी परिस्थिति के समय छात्रावासों में तथा अपने घर से दूर रहकर पढाई करने वाले विद्यार्थियों के लिए हेल्पलाइन जारी की गई।

साथ ही स्थानिक प्रशासन की विभिन्न व्यवस्थाओं को बनाए रखने में सहयोग करने हेतु इच्छुक विद्यार्थियों का अखिल भारतीय स्तर पर स्वयंसेवकों का रजिस्ट्रेशन भी प्रारम्भ करेगी।

अभाविप ने कोरोना वायरस (Coronavirus) तालाबंदी से उत्पन्न परिस्थिति में शिक्षा संस्थानों के बंद होने, परीक्षाओं के स्थगित होने तथा आगामी प्रवेश, परीक्षा और परिणाम सम्बंधित उठने वाली समस्याओं को लेकर शिक्षा समुदाय से व्यापक अपील की है, कि वे अपने सुझाव ऑनलाइन, सोशल मिडिया तथा ईमेल द्वारा अभाविप को प्रेषित करें, जिससे रचनात्मक समाधान प्रदान किये जा सकें।

विद्यार्थी परिषद इस निम्मित शिक्षा विभाग, विश्वविद्यालयों, विभिन्न शैक्षिक संस्थाओं से समाधान हेतु प्रयासों को आगे बढ़ाएगी।

आम विद्यार्थियों, युवाओं एवं अभाविप कार्यकर्ताओं से यह भी अपील है, कि वे सोशल मीडिया (Social Media) के माध्यम से अपने स्थानीय क्षेत्र की सरकारी व्यवस्था की ज्यादा से ज्यादा आधिकारिक जानकारी साझा करें, जिससे इस कठिन समय में आम जनमानस को सही और सटीक जानकारी मिलने में सुलभता हो।

अभाविप के प्रदेश मंत्री हुश्यार मीना ने सभी शिक्षकों तथा छात्रों से अपनी समस्याएं एवं सुझाव अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद तक ऑनलाइन माध्यमों से पहुंचाने की अपील करते हुए आश्वस्त किया, कि अभाविप विभिन्न संस्थाओं तथा सरकार तक उनकी बात पहुंचाने और निस्तारण का काम करेगी।

साथ ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद शीघ्र ही एक ऑनलाइन पंजीकरण के माध्यम से ऐसे सभी कार्यकर्ता जो अपने क्षेत्र में स्थानीय प्रशासन की सहायता घर-घर सुविधाएं पहुंचाने में करना चाहते हैं, उनका पंजीकरण प्रारंभ करेगी।

अभाविप पंजीकृत स्वयंसेवकों का स्थानीय प्रशासन से संपर्क स्थापित करने का काम करेगी, जिससे वह प्रशासन की योजना अनुरूप कार्य कर सकें।