नई दिल्ली।

कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझते देश को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने 1.70 लाख करोड रुपए का राहत पैकेज दिया है। केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लॉन्च कर दी है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि 1. 7 लाख करोड रुपए की इस योजना के द्वारा देश के किसी भी व्यक्ति को भूखा नहीं रहने दिया जाएगा।

हेल्थ वर्कर्स का 50 लाख रुपये का बीमा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि देश में पुराना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे हेल्थ वर्कर का 50 लाख रुपये का बीमा करवाया जाएगा।

80 करोड़ लोगों को 3 महीने तक 5 किलो चावल

वित्त मंत्री ने बताया कि अगले 3 महीने तक देश के 80 करोड़ उन लोगों को 5 किलो चावल फ्री दिया जाएगा, जो सामान्य श्रेणी और बीपीएल में आते हैं।

अमेरिका ने दिए थे दो लाख करोड़

भारत सरकार के राहत पैकेज से बड़ा पैकेज केवल अमेरिकी सरकार ने दिया है। अमेरिका ने अपने सभी काम करने वाले लोगों को महीने का ₹30000 देने का फैसला किया है।

21 दिन के लॉक डाउन का दूसरा दिन, 17 मौत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के द्वारा 25 मार्च की रात से देशभर में लॉक डाउन करने का जो फैसला किया गया था। उसका आज दूसरा दिन है पूरे देश में 646 मरीज सामने आ चुके हैं, जबकि 17 जनों की मौत हो चुकी है। राजस्थान के भीलवाड़ा में पहली मौत हुई है।

अस्पतालों की सुविधा बढ़ाने के लिए पहले ही दे चुके हैं 15000 करोड

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 24 मार्च की रात 8:00 बजे देश को संबोधित करते हुए जब लॉक डाउन का ऐलान किया था, तभी देश के अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाने के लिए 15000 करोड रुपए के राहत पैकेज का ऐलान किया था।

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश है भारत

केंद्र सरकार के द्वारा जो राहत पैकेज दिया गया है, वह देश के किसी भी व्यक्ति को भूखा नहीं सोने देने के लिए दिया गया है। बता दें कि भारत में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी है। आबादी के लिहाज से चीन (Chine) दुनिया का सबसे बड़ा देश है।