सतीश पूनिया और लालचंद कटारिया ने अपने क्षेत्र की जनता को मास्क और सेनीटाइजर्स बांटने के लिए दिए पैसे

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया और प्रदेश के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने अपने-अपने क्षेत्र में स्वास्थ्य और सैनिटाइजर बांटने के लिए अपनी तरफ से एक-एक लाख रुपये देने का फैसला किया है।

भाजपा अध्यक्ष पूनिया ने जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर विधायक को से तुरंत प्रभाव से 1 लाख रुपए रिलीज करने और इन रुपयों के मांस के और सैनिटाइजर बांटने का निर्देश दिया है।

इसके साथ ही कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने अभी मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक लाख दिया है। इतना ही नहीं उन्होंने अपने 1 महीने का वेतन भी मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने का फैसला किया है।

दोनों नेताओं के अलावा कुछ अन्य विधायकों ने भी अपने अपने क्षेत्र के जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर जनता को मास्क और सैनिटाइजर उपलब्ध करवाने का आग्रह किया है।

सतीश पूनिया और लालचंद कटारिया के अलावा गोपाल मीणा, राजकुमार शर्मा और बगरू विधायक गंगादेवी ने भी अपने-अपने विधायक कोष से सैनिटाइजर और मास्क के लिए पैसे देने का ऐलान किया है।

उल्लेखनीय है कि उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने 1 दिन पहले ही राज्य के सभी 200 विधायकों को आग्रह किया था कि आपने अपनी ओर से कम से कम एक लाख रुपए मास्क और सैनिटाइजर के लिए उपलब्ध करवाएं।

गौरतलब है कि राजस्थान में अब तक कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 29 हो चुकी है। सबसे ज्यादा प्रभावित भीलवाड़ा और झुंझुनू जिले हैं। राजस्थान सरकार ने पूरे राज्य को लॉक डाउन कर दिया है।

दूसरी तरफ राजस्थान विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ने भी सभी शिक्षकों की तरफ से 1 दिन का वेतन वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का ऐलान किया है। राज्य के स्कूली शिक्षा संघ सियाराम ने भी 1 दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का फैसला किया।

यह भी पढ़ें :  अशोक गहलोत बने मुख्यमंत्री, शाम को शपथ ग्रहण करेंगे