राजस्थान के आदिवासियों में भी साम, दाम, दंड, भेद से धर्म परिवर्तन है बड़ा मुद्दा

जयपुर।

आदिवासियों को बहला-फुसलाकर धर्म परिवर्तन करने के मामले पूरे देश भर में सामने आते रहते हैं। इसी तरह के मामले अब राजस्थान की विधानसभा में भी उठे हैं।

भारतीय ट्राइबल पार्टी के टिकट पर पहली बार जीतकर पहुंचे सबसे कम उम्र के विधायक राजकुमार रोत ने राज्य के आदिवासी इलाकों में साम-दाम-दंड-भेद के द्वारा आदिवासियों के धर्म परिवर्तन करवाने की बातें कहकर सनसनीखेज खुलासा किया है।

राजकुमार ने दावा किया कि आदिवासी जिलों में जहां पर लोगों के पास मूलभूत सुविधाओं का अभाव है, वहां पर दूसरे धर्मों के लोग पैसे के बल पर, धमकाकर, डराकर लोगों के धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं। यह बहुत बड़ा मामला है, जिसकी तरफ सरकार को ध्यान देना चाहिए।

राज्यपाल के अभिभाषण पर अपनी पार्टी की तरफ से बोलते हुए राजकुमार रोत ने जमीनी मुद्दे उठाए और इसकी तरफ राज्य सरकार का ध्यान आकर्षित किया। बेहद सधे हुए तरीके से बोलते हुए राजकुमार ने सबसे बड़ा होता धर्म परिवर्तन बताया।

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़, केरला, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में आदिवासियों का धर्म परिवर्तन करवाने का मामला बहुत बड़ा है, यहां पर उनको पैसे और अन्य लालच देकर धर्म परिवर्तन करवाया जाता है।

यह भी पढ़ें :  फसल को सहकारी समिति पर रखकर किसान ले सकेगा 3% ब्याज पर 70 फ़ीसदी नगदी