Video: स्कूल शिक्षा परिवार के प्रदेशध्यक्ष अनिल शर्मा ने शिक्षा अधिकारी के साथ की बदतमीजी, मारपीट की कोशिश

Bhilwara news

एक तरफ जहां राज्य सरकार निजी स्कूलों की मनमानी से परेशान है, तो दूसरी तरफ बच्चों और अभिभावकों को लेकर भी प्राइवेट स्कूलों का रवैया बेहद चिंताजनक है। हालात यह है कि प्राइवेट स्कूल संचालक संगठित होकर अब जिला शिक्षा अधिकारी तक को धमकाने, मारपीट करने और बदतमीजी करने तक की हिम्मत जुटाने लगे हैं।

ऐसा ही एक मामला सामने आया है भीलवाड़ा जिले का, जहां पर जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय मे घुसकर स्कूल शिक्षा परिवार ( निजी स्कूलों के ) के प्रदेशाध्यक्ष अनिल शर्मा ने बडी संख्या मे अपने समर्थकों के साथ सीडीईओ राधेश्याम शर्मा के अभद्रता करते हुए हाथापाई की कोशिश की।

इस घटना को लेकर संयुक्त शिक्षक संघर्ष समिति ने जिला कलेक्टर व जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर आरोपी अनिल शर्मा को गिरफ्तार करने की मांग की है और कार्रवाई नहीं होने पर आन्दोलन की चेतावनी दी है।

कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया गया है, लेकिन खबर लिखे जाने तक भी आरोपी अनिल शर्मा को भीलवाड़ा के कोतवाली थाने में बंद होने की सूचना मिली है। उनके खिलाफ आईपीसी की तीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।


सीडीईओ कार्यालय सूत्रों के अनुसार सोमवार दोपहर को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में स्कूल शिक्षा परिवार के प्रदेशाध्यक्ष अनिल शर्मा अपने 40- 50 समर्थकों के साथ पहुंचे और मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राधेश्याम शर्मा ( CDEO) से बातचीत करने को लेकर बहस करने लगे।

बातों ही बातों में उन्होंने अभद्रता करते हुए हंगामा किया तथा हाथापाई पर उथर आए। तभी कार्यालय के अन्य कर्मियों ने बीच-बचाव कर अनिल शर्मा को रोका और उनके खिलाफ शहर कोतवाली पुलिस को सूचना दी।

यह भी पढ़ें :  स्टेशन पर यूं अख़बार पढ़ते भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया, एक अध्यक्ष आम कार्यकर्ता बनकर जनता में है

सूचना मिलते ही शहर कोतवाल मौके पर पहुंचे तथा अनिल शर्मा को पकड गाडी में बिठा कोतवाली ले गए। इधर, इस घटना को लेकर सीबीईओ राधेश्याम शर्मा ने तत्काल जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट को घटना से अवगत कराया। दूसरी ओर संयुक्त शिक्षक संघर्ष समिति के बैनर तले सभी शिक्षक संगठनों ने एक ज्ञापन जिला कलेक्टर के नाम एडीएम (शहर) नरेन्द्र जैन को दिया।

एक ज्ञापन एसपी को देते हुए मांग की है कि आरोपी के खिलाफ कार्रवाई तथा गिरफ्तारी नहीं होती है, तो आन्दोलन किया जाएगा। साथ ही कहा है कि ऐसे हालत मे बोर्ड परीक्षाएं संचालन कराने में परेशानी आएगी। संघर्ष समिति ने मांग की है कि ऐसी घटनाओं की
पुर्नरावृति न हो।

यह क्या कहते हैं अधिकारी

मैं ऑफिस मे बैठा सरकारी कार्य निपटा रहा था, तभी स्कूल शिक्षा परिवार के प्रदेशाध्यक्ष अनिल शर्मा, जिन्हें मैं जानता तक नहीं था, करीब 40-50 लोगों के साथ बिना परमिशन के घुस गए। बिना कुछ बताए तथा मेरे से सबंधित कार्य नहीं होने के उपरांत भी हंगामा किया और मुझसे अभद्रता करने लगे। इतना ही नहीं, वो लोग हाथापाई पर उतर आए। वह तो मेरे कार्यालय के स्टाफ आ गए और बीच बचाव किया नहीं तो मारपीट करते।
राधेश्याम शर्मा
सीडीईओ, भीलवाड़ा

-सीबीईओ की रिपोट पर आईपीसी की धारा 143, 332, 353 में मामला दर्ज कर लिया है, जांच शुरू कर दी है।
यशदीप भल्ला
शहर कोतवाल, भीलवाड़ा

पूरी घटना का वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें