रालोपा को छेड़ने का मतलब 440 वोल्टेज का झटका: बेनीवाल

Jaipur news

नागौर से राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के 2 विधायकों पुलिस के द्वारा भगोड़ा घोषित किया जाना राज्य सरकार को भारी पड़ सकता है। पार्टी के सांसद और संयोजक हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी को छेड़ने का मतलब 440 वोल्टेज का झटका।

उल्लेखनीय है कि मेड़ता से विधायक इंदिरा देवी और भोपालगढ़ से विधायक पुखराज गर्ग को नागौर की सीआईडी सीबी में भगोड़ा घोषित करते हुए उनके आवास पर नोटिस चस्पा किए थे, जिसको लेकर विधानसभा में जोरदार हंगामा हुआ।

हनुमान बेनीवाल ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी से अनुरोध करते हुए कहा है कि विधायकों के मामले में विशेषाधिकार हनन का मामला बनता है, इसलिए तुरंत प्रभाव से दोनों दलित विधायकों के लिए संबंधित अधिकारियों खिलाफ कार्रवाई की जाए।

बेनीवाल ने लगातार टि्वटर-फेसबुक के माध्यम से राज्य सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के विधायकों को छोड़कर 440 वोल्टेज का झटका खाने की तैयारी कर ली है।

उल्लेखनीय है कि इस मामले को लेकर सोमवार को राज्य विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष ने स्थगन प्रस्ताव के जरिए दोनों विधायकों को भगोड़ा घोषित किए जाना और जबकि सदन की कार्रवाई प्रगति पर हो, ऐसे वक्त में उनके घर पर नोटिस चस्पा करके बुलाया जाना उनके विशेषाधिकार हनन की श्रेणी में आता है।

इस मामले को लेकर विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने भी राज्य सरकार को हिदायत दी है। उन्होंने कहा है कि इस प्रकरण को बारीकी से देखेंगे, उसके बाद तय करेंगे कि विशेषाधिकार का मामला बनता है या नहीं? इस पर बेनीवाल ने उनका आभार भी जताया है।

यह भी पढ़ें :  संजय जैन को मिल सकता है सांगानेर से बीजेपी का टिकट!

इसके साथ ही हनुमान बेनीवाल ने सीधे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर हमला करते हुए कहा है कि अपने बेटे की जोधपुर में हुई हार को अब भी वह पचा नहीं पा रहे हैं, इसलिए हमारे विधायकों के खिलाफ इस तरह के कार्रवाई कर रहे हैं।