जयपुर/नागौर।

प्रदेश में 7 दिसम्बर को मतदान और 11 दिसम्बर को परिणाम के बाद नीतिगत रूप से राज्य सरकार अब तक कुछ भी नहीं कर पाई है, लेकिन इसी दौरान राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (Rashtriya Loktantrik Party) के संयोजक हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) ने वह कर दिया जो कोई नहीं कर पाया।

बेनीवाल राज्य में मतदान के परिणाम के बाद से ही जन सुनवाई कर रहे हैं। बीते चार दिन से तो लगातार खींवसर में ही सुनवाई कर रहे हैं। हज़ारों की संख्या में लोग बेनीवाल के पास पहुंच रहे हैं।

उससे पहले जयपुर में जालूपुरा स्थित अपने निवास पर भी लोगों से मिलते रहे। उन्होंने कहा है कि उनके घर के दरवाजे हर आदमी के लिए खुले हुए हैं। जवान और किसान के लिए वह हमेशा तैयार रहेंगे।

आपको बता दें कि अभी तक किसी भी विधायक ने अपने स्तर पर जन सुनवाई शुरू नहीं की है। ऐसे में कहा जा सकता है कि इस मामले में बेनीवाल अन्य से काफी आगे निकल चुके हैं।

आपको यह भी बता दें कि पिछली सरकार ने BJP कार्यालय में पार्टी की तरफ से पांच साल तक मंत्रियों ने जन सुनवाई की थी। हालांकि, उसमें आई परिवेदनाओं पर सुनवाई और उनका निराकरण नहीं करने के आरोप भी खूब लगे हैं।

अब राज्य में नया मंत्रिपरिषद ने जनता से मिलने और लगातार जन सुनवाई के दावे किए हैं, जबकि हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) के अलावा किसी भी विधायक या मंत्री ने सुनवाई शुरू नहीं की है।

Related posts