बेनीवाल की पार्टी के 2 विधायकों को पुलिस ने बताया भगोड़ा

विधानसभा संवाददाता।

राजस्थान विधानसभा का बजट सत्र प्रगति पर है और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के 2 विधायकों के घर पर नोटिस चस्पा किया गया है, जिसमें उनको भगोड़ा घोषित करते हुए तलब किया है। इसको लेकर सोमवार को विधानसभा में जोरदार हंगामा हुआ।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी ने पुलिस और सरकार की कार्यशैली को गलत कहा है। जोशी ने कहा कि इंदिरा देवी बावरी जैसी सदस्य ने संघर्ष करके सदन में बोलने की हिमाकत करती हैं, ऐसे लोगों को आगे बढ़ाना हमारा धर्म है।

उन्होंने कहा कि पुलिस का सीधा रवैया उन्हें सदन की कार्यवाही से वंचित रखना है। ऐसे में पुलिस द्वारा विधायकों को नोटिस देना पूर्ण रूप से गलत है, क्योंकि विधानसभा का सत्र प्रगति पर है।

नागौर में बंजारा बस्ती उजाड़ने के दौरान हुए मुकदमे में आरोपी और भगोड़ा शब्द उल्लेखित करते हुए विधायक पुखराज गर्ग और विधायक इंदिरा देवी के घरों के बाहर नोटिस चस्पा करना के पुलिस के लिए दुविधा बन गए हैं।

विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने सम्बंधित अधिकारियों के खिलाफ सदन में विशेषाधिकार हनन का प्रदताव दिया, जिसको अध्यक्ष ने स्वीकार कर लिया और संबंधित अधिकारियों पर कार्यवाही के लिए कहा है।

राठौड़ ने स्थगन प्रस्ताव आसन से स्वीकार करने का किया आग्रह है, जिसपर एक्शन लेते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने सरकार से रिपोर्ट तलब की है। नागौर कोतवाल व अजमेर सीआईडी सीबी की आईओ के खिलाफ बड़ी कार्यवाही हो सकती है।

राजेंद्र राठौड़ ने सदन के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि राजस्थान विधानसभा के इतिहास में यह पहला मौका है, जब सदन प्रगति पर हो और किसी विधायक को इस तरह से भगोड़ा घोषित करके तलब किया गया।

यह भी पढ़ें :  राजस्थान में धारा 144 लागू, 31 मार्च तक 5 लोगों से ज्यादा एकत्रित नहीं हो सकेंगे

उन्होंने कहा कि नागौर की पुलिस और सीआईडी-सीबी दोनों के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई के लिए कहा गया है।

उन्होंने कहा कि राज्य विधानसभा में मौजूद दलित समुदाय से आने वाले 2 विधायकों के खिलाफ जिस तरह से पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई की है, उससे सरकार की नीयत पर सवाल खड़े होते हैं।

उन्होंने कहा कि यह पहला मौका है, जब सदन की कार्रवाई चल रही हो और अवमानना का मामला सामने आया है। राजेंद्र राठौड़ ने कहा है कि अपने राजनीतिक आकाओं को खुश करने के लिए पुलिस पूरी तरह से निरंकुश हो गई है।