RLP की इंदिरा बावरी ने सदन में बजवाई 3-4 बात भेजें, अपने क्षेत्र की तथ्यात्मक बात कीं

Jaipur news

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी की मेड़ता से विधायक इंदिरा बावरी, जो की पहली बार विधायक बनकर सदन में पहुंची हैं, उन्होंने गुरुवार को बजट भाषण पर बोलते हुए सदन को तीन-चार बार मेजें थपथपाने के लिए मजबूर कर दिया।

अन्य सदस्यों की तरह बातों को इधर-उधर घुमाने के बाजार मुद्दे पर बात करते हुए इंदिरा बावरी ने केवल मेड़ता की बात की। उन्होंने मेड़ता की समस्याओं से सरकार को समाधान करने के लिए ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया।

विधायक इंदिरा बावरी ने मेड़ता में 100 बैड के सरकारी अस्पताल और डॉक्टर लगाने की मांग की। इसके साथ ही उन्होंने टूटी-फूटी सड़कों को समय पर ठीक करने और पानी की समस्या के समाधान के लिए भी सरकार का ध्यान आकर्षित किया।

इंदिरा देवी बावरी को वैसे तो विधायक बनेंगे 15 महीने पूरे हो चुके हैं, लेकिन सदन में आज पहली बार बोलीं। उन्होंने राजस्थानी भाषा में बोलते हुए बीच-बीच में हिंदी के शब्दों का भी प्रयोग किया।

इंदिरा देवी ने जिस तरह से इधर-उधर की बातें नहीं करके केवल को अपने क्षेत्र पर ध्यान की बात की। उससे मजबूर होकर सदन में बैठे सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्य मेजें थपथपाने को मजबूर हो गए। ऐसा करीब 3 जवानों को जबकि इंदिरा देवी केवल 3-4 मिनट ही बोली हैं।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान विधानसभा में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के खींवसर से नारायण बेनीवाल, भोपालगढ़ से पुखराज गर्ग और नागौर के मेड़ता से इंदिरा बावरी विधायक हैं।

यह भी पढ़ें :  राजस्थान के प्राइवेट अस्पतालों में होगा कोरोना का बिल्कुल फ्री इलाज