स्पर्धा चौधरी और रणदीप चौधरी ने संभाला जयपुर में रालोपा का मोर्चा

Sprdha choudhary RLP
Sprdha choudhary RLP

रामगोपाल जाट
नागौर में दलित युवकों के साथ मारपीट करने और उनके साथ अमानवीय अत्याचार करने के मामले में रविवार को राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने प्रदेशभर में सरकार के खिलाफ एक साफ हल्ला बोला। राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर रालोपा के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर जिला कलेक्टर्स को ज्ञापन दिया।

जयपुर में रालोपा का नेतृत्व किया महिला मोर्चा की अध्यक्षा स्पर्धा चौधरी और रालोपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष रणदीप चौधरी ने। दोनों युवाओं ने ​जयपुर कलेक्ट्रेट पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन में युवाओं का नेतृत्व किया।

इस दौरान दलित अत्याचार के साथ ही अशोक गहलोत की राज्य सरकार के भ्रष्टाचार में लिप्त बताए जा रहे यातायात, परिवहन एवं सैनिक कल्याण मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास को बर्खास्त करने की मांग की गई।

प्रदर्शन के बाद राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष स्पर्धा चौधरी, युवा मोर्चा के अध्यक्ष रणदीप सिंह चौधरी, चौमू से उम्मीदवार रहे छूट्टन यादव, पूर्व विधायक रामस्वरुप कसाना के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम जयपुर मुख्यालय पर कलेक्टर को ज्ञापन दिया गया।

स्पर्धा चौधरी ने बताया कि राजस्थान​ अशोक गहलोत इतनी भ्रष्ट हो गई कि प्रदेश में दलितों और छोटी बच्चियों के साथ हो रहे अत्याचार की तरफ कोई ध्यान ही नहीं है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान की पुलिस बजरी माफियाओं से हफ्ता लेने में व्यस्त है और राजस्थान के मंत्री खुद भ्रष्ट हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री की आफसी फूट का नुकसान से प्रदेश की जनता को उठाना पड़ रहा है।

उन्होंने दावा किया कि अगर जल्द ही राजस्थान सरकार ने जरुरी फैसला नहीं लिया तो सरकार के खिलाफ प्रदेशभर में उग्र आंदोलन किया जाएगा। ज्ञापन में नागौर एसीपी करने की मांग की और राजस्थान सरकार के भ्रष्ट मंत्री को मंत्री पद से हटाने की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें :  Jaipur समेत 7 जिलों में बारिश-ओलावृष्टि की संभावना