RLP MLA's Narayan beniwal
RLP MLA's Narayan beniwal

Jaipur news

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (Rashtriya Loktantrik Party) के राजस्थान से नारायण बेनीवाल, इंदिरा बावरी और पुखराज गर्ग तीन विधायक है तीनों विधायकों ने आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के द्वारा अपने इस कार्यकाल के दूसरे बजट (Budget) भाषण का बहिष्कार कर दिया।

नागौर में एक युवक के साथ बुरी तरह से मारपीट करने और उसको जलील करने के अलावा राजस्थान के यातायात और परिवहन विभाग में बड़े घोटाले को लेकर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (Rashtriya Loktantrik Party) के विधायकों ने सदन के बाहर धरना दे दिया।

खींवसर से विधायक नारायण बेनीवाल ने कहा कि परिवहन विभाग में इतना बड़ा घोटाला हुआ, लेकिन अभी तक भी सरकार ने किसी के ऊपर कोई एक्शन नहीं लिया है।

उन्होंने परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास को बर्खास्त करने की मांग करते हुए कहा कि धरना अनिश्चितकाल के लिए जारी रहेगा।

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास को बर्खास्त करने और दलित अत्याचार पर नागौर एसपी को एपीओ करने की तख्तियां हाथ में हुए तीनों विधायकों ने सरकार को जबरदस्त तरीके से घेरने का काम किया है।

इससे पहले तीनों विधायकों ने बजट (Budget) की शुरुआत करने के साथ हुई तख्तियां लहराते हुए सरकार का जोरदार शब्दों में विरोध किया और इसके बाद जब विधानसभा अध्यक्ष ने उनको रोकने का प्रयास किया तो तीनों ने बजट (Budget) भाषण का बहिष्कार करके बाहर निकल गए।

जैसे ही विधानसभा की कार्रवाई शुरू हुई और विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को बजट (Budget) भाषण पढ़ने के लिए नाम पुकारा वैसे ही नारायण बेनीवाल, इंदिरा बावरी और पुखराज गर्ग तीनों तख्तियां लेकर वेल में आ गए और कार्रवाई की मांग करने लगे।

उल्लेखनीय है कि नागौर में एक युवक के साथ एक दो पहिया वाहन कंपनी के शोरूम में मारपीट करने और उसके साथ उसके जननांगों में पेट्रोल के कपड़े घुसाने और आग लगाने साथ ही मारपीट करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।