हनुमान बेनीवाल ने अशोक गहलोत और प्रताप सिंह खाचरियावास समेत इतने नेताओं को भ्रष्टाचार के भागीदार बताया…

Jaipur news

एंटी करप्शन ब्यूरो के द्वारा रविवार को यातायात विभाग में ताबड़तोड़ कार्रवाई करने के बाद 1.20 करोड रुपए पकड़े जाने को लेकर राजस्थान में राजनीति का माहौल गर्म हो गया है।

एंटी करप्शन ब्यूरो की इस कार्रवाई के बाद एक तरफ जहां यातायात मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास गुट के द्वारा गहरी नाराजगी जताई गई है, वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी ने इसको पूरी सरकार से मिलीभगत के रूप में देखकर आरोप लगाया है।

शाम होते-होते सोमवार को नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल भी इस मामले में कूद पड़े। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल ने नागौर में एक दोपहिया वाहन कंपनी के उद्घाटन समारोह में बोलते हुए कहा कि यातायात विभाग में करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और यातायात मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास की नजरों से बचकर नहीं हो सकता।

हनुमान बेनीवाल यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच करवाने और जिन मोटी मछलियों का नाम इसमें सामने आ रहा है, उनको भी कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग करते हुए कहा कि यह राज्य सरकार की कठोर विफलता को दर्शाता है।

हनुमान बेनीवाल ने एक बार फिर से किसानों और बेरोजगारों के लिए हुंकार भरने के संकेत दिए। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द ही एक रणनीति बनाकर राजस्थान की सरकार के खिलाफ आंदोलन तेज किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि रविवार को एंटी करप्शन ब्यूरो ने 17 टीमें बनाकर जयपुर में अलग-अलग ताबड़तोड़ कार्रवाई की जिसमें आरटीओ और डीटीओ के अधिकारियों के अलावा 6 दलाल भी पकड़ में आए हैं, उनके यहां से 1.20 करोड रुपए बरामद किए गए हैं।

यह भी पढ़ें :  पानीपत फिल्म को लेकर राजस्थान की युवा नेत्री स्पर्धा चौधरी ने दिया बड़ा बयान