राहुल गांधी प्रदेश की जनता से माफी मांगें: डाॅ. सतीश पूनियां

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने
राहुल गांधी से पूछे पांच यक्ष प्रश्न


कल राहुल गांधी की झूठ बोल रैली: डाॅ. पूनियां

Jaipur news

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने आज सोमवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये कहा कि राजस्थान विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने अपने भाषणों में प्रदेश की जनता से बड़े-बड़े वादे किये कि कांग्रेस सत्ता में आई तो 10 दिन के अन्दर किसानों का सम्पूर्ण कर्जा माफ करेंगे।

उस समय प्रदेश के 60 लाख से ज्यादा किसानों पर 99 लाख 995 करोड़ रूपये से अधिक का कर्जा था, किन्तु सरकार को सवा साल हो गया है, अभी तक 20 लाख 26 हजार किसानों का 7 हजार 689 करोड़ रूपये का कर्जा ही माफ कर पाई है। इस झूठ के लिये राहुल गांधी जवाब दे क्या वो किसानों से कल रैली में माफी मागेंगे?

डाॅ. पूनियां ने कहा कि ठीक इस तरह विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी ने बेरोजगार युवाओं से वादा किया था कि कांग्रेस सरकार बनते ही प्रत्येक बेरोजगार युवा पुरूष को 3 हजार व महिलाओं को 3500 रूपये बेरोजगारी भत्ता देंगे।

अभी तक सरकार बनने के सवा साल में केवल 1 लाख 58 हजार 576 बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता दिया है। जो कि पिछले 1-2 महीनों से जारी हुआ है। जबकि चुनाव प्रचार के दौरान आपने भाषण में 27 लाख से अधिक बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने की बात कही थी। युवाओं से किये गये इस वादा खिलाफी के लिये क्या आप प्रदेश के युवाओं से माफी मांगेंगे?

डाॅ. पूनियां ने कहा कि सवा साल हो गये प्रदेश की कांग्रेस सरकार को, अपराधों के मामलों में मध्यप्रदेश के बाद राजस्थान दूसरे नम्बर पर है। महिला अत्याचार में 65 प्रतिशत की वृद्धि के साथ राजस्थान तीसरे नम्बर पर है, यदि आबादी के प्रतिशत से देखे तो राजस्थान नम्बर एक पर है।

यह भी पढ़ें :  रद्द हो सकता है कांग्रेस के सांगानेर प्रत्याशी पुष्पेन्द्र भारद्वाज का नामांकन पत्र!

दलित अत्याचार पिछले एक वर्ष में 46 प्रतिशत तक बढ़े हैं। एक समुदाय विशेष को आपके सरकार के द्वारा मिले समर्थन के चलते उस समुदाय के अपराधियों द्वारा दलितों पर अत्याचार की घटनायें और उन पर कार्यवाही नहीं होने की घटनायें बेतहाशा बढ़ी है।

बाल तस्करी के मामले में राजस्थान देश में प्रथम स्थान पर हो गया है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने राजस्थान की गरिमा को पीछे धकेल दिया है। आपको प्रदेश की जनता कभी माफी नहीं करेगी।
डाॅ. पूनियां ने कहा कि ट्रांसपेरेन्सी इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार राजस्थान भ्रष्टाचार में नम्बर एक है। आर्थिक अपराध में देश में प्रथम बना है। गहलोत सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि राजस्थान में हजारों की संख्या में पड़ोसी इस्लामिक देशों से आये हुये शरणार्थी जिनमें 65 प्रतिशत दलित विस्थापित, जिनको नागरिकता देने के लिये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यू.पी.ए. सरकार के तत्कालिक गृहमंत्री पी. चिदम्बरम को पत्र लिख चुके है।

अब राहुल गांधी बताये कि दशकों से नारकीय जीवन जी रहे इन विस्थापितों को नागरिकता मिले, वो इसके पक्ष में है या नहीं?

डाॅ. पूनियां ने आरोप लगाया कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार राहुल गांधी की रैली के लिये सरकारी कर्मचारियों पर दबाव डालकर उन्हें जबरन रैली में बुला रही हैं।

अजमेर के सरकारी महाविद्यालय के प्राध्यापकों को छुट्टी दिलवाई गई है। अध्यापकों के माध्यम से काॅलेज के छात्रों पर दबाव डाला जा रहा है।

सरकारी सेवा नियमों की धज्जियां उड़ाते हुये कांगे्रस के शिक्षक संघ रूक्टा में जुड़े हुये लोग रैली में आने के लिये अपील कर रहे हैं। सरकारी महाविद्यालय अजमेर के प्राचार्य मुन्नालाल अग्रवाल कांग्रेस के प्रदर्शनों में शामिल हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  नर्स ग्रेड द्वितीय और जीएनएम भर्ती के लिए वेटिंग लिस्ट जारी, देखिए यहां पर

डाॅ. सतीश पूनियां ने कहा कि हम पहले से चेता रहे है कि सीएए के विरोध में देश विरोधी गतिविधियों में शामिल लोग बड़े पैमाने पर रूपयों के जरीये देश में झूठा आंदोलन, अराजकता और हिंसा फैलाने की साजिश की जा रही है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के खातों में पीएफआई द्वारा जमा पैसा इसका उदाहरण है।

भारत का पहला संस्कृत केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने पर मोदी सरकार बधाई की पात्र: डाॅ. सतीश पूनियां

राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान में बहुद्देशीय भवन शिलान्यास समारोह आयोजित हुआ। जिसमें महामहिम राज्यपाल कलराज मिश्र मुख्य अतिथि रहे। उन्होंने संस्कृत प्रचार-प्रसार एवं पोषण के लिये कार्य करने का आह्वान किया।

शिलान्यास समारोह कार्यक्रम के अतिथि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने अपना सम्बोधन संस्कृत की कुछ पंक्तियों से शुरू किया।

उन्होंने कहा कि संस्कृत केंद्रीय विश्वविद्यालय का यह भवन यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से निर्मित किया जा रहा है, जिन्होंने इस संस्थान को मानित विश्वविद्यालय से केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिया।

मोदी सरकार का यह प्रयास संस्कृत वांग्मय के प्रचार, प्रसार, शोध और अनुसन्धान में सहायक होगा।

प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. पूनियां ने कहा कि संस्कृत बचपन से उनकी प्रिय भाषा रही है। यह देववाणी है, जिसके नियमों को कंप्यूटर भी सरलता से समझ कर स्पष्ट कर सकता है। इस भाषा के उच्चारण से शरीर का रोम-रोम खिल जाता है।

मोदी सरकार ने जो भारत का पहला संस्कृत केंद्रीय विश्विद्यालय बनाया है, उसके तहत इस भवन का शिलान्यास राजस्थान में संस्कृत के पठन-पाठन को विकसित और पुष्टित करेगा।

इस कार्यक्रम में अतिथि के रूप में सांसद रामचरण बोहरा सहित विश्वविद्यालय के कुलपति एवं संस्कृत के विद्वान भी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें :  Video: ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को पुलिस वाले ने जड़ा थप्पड़, हड़ताल की तरफ डॉक्टर

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने पद्मश्री मिलने पर प्रदेश के सम्मानितों व ब्रिटिश सांसद बाॅब ब्लैकमेन को दी बधाई

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने पद्मश्री मिलने पर प्रदेश के सम्मानितों एवं ब्रिटिश सांसद बाॅब ब्लैकमैन को बधाई दी। अपने लंदन प्रवास के दौरान प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. पूनियां की मुलाकात बाॅब ब्लैकमैन से हुई थी।

इस दौरान भारत की कला, संस्कृति और जीवनशैली को लेकर बाॅब ब्लैकमैन से चर्चा हुई। डाॅ. पूनियां ने बाॅब को राजस्थान आने का निमंत्रण दिया और विशेष रूप से अपनी विधानसभा क्षेत्र आमेर आने के लिए कहा, जिसे बाॅब ने सहर्ष स्वीकार किया।

पद्मश्री सम्मान की घोषणा के बाद हर्षित होकर डाॅ. पूनियां ने फोन करके बधाई दी। बाॅब का भारत के प्रति रवैया हमेशा सकारात्मक रहा है, उन्होंने सदैव भारत के हित में बोला हर स्तर और मंच भारतवासियों के साथ खड़े रहे।

प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने पद्मश्री से प्रदेश के सम्मानित प्रतिभाएं जिनमें स्वच्छता में कार्य के लिए उषा चैमार, पर्यावरण में श्रेष्ठ कार्य के लिए सुंडाराम वर्मा और हिम्मताराम भांभू, गायन और सामाजिक सद्भाव के लिए मुन्ना मास्टर और अनवर अली को बधाई दी और अभिनन्दन किया।