चुनाव ड्यूटी के दौरान मृत्यु होने पर कार्मिक को त्वरित आर्थिक सहायता

भीलवाड़ा, 17 जनवरी।

जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राजेन्द्र भट्ट ने चुनाव ड्यूटी पर मृत्यु होने पर मृतक कार्मिक के परिजनों को 20 लाख की त्वरित आर्थिक सहायता प्रदान कर संवेदनाएं व्यक्त की।

राज्य सेवा एवं पेंशन नियम के प्रावधान के तहत यह राशि स्वीकृत करते हुए मृतक कार्मिक की पत्नी के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर की गई।

पंचायत चुनाव हेतु बिजोलिया के लक्ष्मी खेड़ा मतदान केंद्र पर नियुक्त सहायक मतदान अधिकारी रतन लाल बुनकर की शुक्रवार तड़के हृदयाघात से मृत्यु हो गई थी।

सूचना पर जिला कलेक्टर बिजोलिया स्थित अस्पताल पहुंचे और सभी आवश्यक कार्यवाही त्वरित गति से करवाते हुए मृतक के बड़े भाई जसराम को प्रशासन की ओर से संवेदना पत्र एवं सहायता राशि का स्वीकृति पत्र सौंपा।

स्वीकृत राशि मृतक की पत्नी लीला देवी के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर की गई। जिला कलेक्टर ने मृतक आश्रित को राजकीय सेवा में लेने के नियमों की जानकारी देते हुए 90 दिन के भीतर आवेदन करने को कहा ताकि अग्रिम कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके।

इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी महेश मान भी उपस्थित रहे। पोस्टमार्टम के पश्चात शव परिजनों को सौंपने की कार्यवाही की गई।

जयपुर जिले का मूल निवासी मृतक कार्मिक रत्न लाल बुनकर कोटड़ी पंचायत समिति के गेगा खेड़ा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में तृतीय श्रेणी अध्यापक के पद पर कार्यरत था।

जिला निर्वाचन अधिकारी के आदेश से बिजोलिया के लक्ष्मी खेड़ा मतदान केंद्र पर सहायक मतदान अधिकारी के रुप में चुनाव ड्यूटी कर रहा था।

यह भी पढ़ें :  यूं परवान चढ़ता है हनुमान बेनीवाल चुनाव प्रचार…