Jaipur hindi news

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने एक बार फिर से राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर तगड़ा सियासी हमला बोला है।

उन्होंने कहा है कि यू-टर्न के जहां अशोक गहलोत वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की ओर हैं, वहीं थूंकर चाटने का काम भी कर रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि 44 में से 39 जिला अध्यक्ष का निर्वाचन हो चुका है। आगामी संगठन की समीक्षा और आगामी कार्यक्रमों की जानकारी के लिए बुलाया था।

मंडल, बूथ, विधानसभा में कार्य करने के लिए जानकारियां दी गई। तात्कालिक मुद्दों पर उनकी भूमिका क्या है, इसके बारे में जानकारी दें। विधानसभा सत्र के दौरान संगठन के मध्यम से मुद्दों को विधानसभा में किस तरह से उठाया जाए।

कोटा की अस्पताल में बच्चों की मौत के बारे में विस्तार से चर्चा की और केंद्र सरकार से सुविधाओं की मांग की। पार्टी में अनुशासन के बारे में भी चर्चा की। पार्टी में हमेशा अनुशासन बना रहे, पंचायत राज चुनाव को लेकर सरकार ने भ्रम पैदा किया है, उसके बारे में विस्तार से चर्चा की।

सभी जिला अध्यक्षों ने कहा जमीनी स्तर पर भले ही कांग्रेस का सरपंच कौन होगा, उनके भीतर भी एक बड़ा गुस्सा है, उनकी आंखों से दूसरे दलों के लोगों में बड़ा आक्रोश है। लोगों में भ्रम की स्थिति है।

ऐसा पहली बार हुआ है, कि सरकार पंचायती राज संस्थाओं को कमजोर करना चाहती है। इस पर विस्तार से चर्चा की भविष्य में इस बात को हम उठाएंगे, ताकि पंचायत राज संस्थाओं को सरकार कमजोर नहीं करें।

सरकार पर नैतिक दबाव रहे। दिल्ली चुनाव में पार्टी के कुछ लोगों के लिए जाएंगे, इसके बारे में चर्चा की गई और जिलाध्यक्षों की विशेष भूमिका है। संघटनात्मक प्रक्रिया पूरी हो गई है। तब मोर्चा को भी अलग अलग से दिया जाएगा।

उनकी भूमिका भी अच्छी तरीके से पार्टी और संगठन में रहे पार्टी और संगठन में अच्छी सोशल इंजीनियरिंग रहे लोगों में, हर तबके के लोगों को सामान्य तौर पर उम्र का मतदान केंद्र की ओर से दिया गया है।

उसके बारे में विस्तार से चर्चा की जिलाध्यक्ष की आयु 55 वर्ष अधिकांश लोग भी बने हैं और कइयों को पहली बार मिला है। अध्यक्षों की नियुक्ति और चुनाव संपन्न हुआ। पहली चुनौती पहला नागरिकता संशोधन कानून के बारे में पूरी मजबूती के साथ काम करें।

जिले की बड़ी तादाद में प्रधानमंत्री को ईमेल, पत्र के जरिए अपना समर्थन किया है। यह देखने में है कहीं-कहीं शुक्रवार के दिन खास तौर पर के विशेष के लिए प्रायोजित तरीके से वहां का वातावरण आशंकित करते हुए इस तरीके के जुलूस की कवायद करते हैं, जिससे लोगों में एक दूसरे का माहौल पैदा होता है।

नागरिकता संशोधन कानून से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इसका जवाब देने के लिए एक अच्छा जनसमर्थन मोदी के साथ खड़ा हो। भाजपा का मिस कॉल के अभियान को और ज्यादा तेज करने का प्रयास किया है। युवा मोर्चा ने 1000000 की जिम्मेदारी ली है।

उन्होंने कहा कि पार्टी के प्रत्येक गांव से स्कूल में प्रधानमंत्री के समर्थन में जाएंगे, घर-घर संपर्क करेंगे, नागरिकता संशोधन कानून पर जन जागरण अभियान को और ज्यादा प्रमुख बनाने पर चर्चा की गई।

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि इस की कार्य योजना तैयार की। यह सरकार कुछ भी कर सकती है, सरकार द्वारा गलत चीजों का इस्तेमाल किया गया है। पूरा देश नागरिकता संशोधन कानून को लेकर मोदी जी के साथ है।

एक उदाहरण देखने को मिला सरकार और सरकार के मुखिया यू टर्न लेने में वर्ल्ड रिकॉर्ड बना लेंगे। आजकल देखने को मिला है, पंचायत राज संस्थाओं डीलिमिटेशन के रूप में किया। शराब की घटना उन्होंने थूक कर चाटने का काम किया है। गहलोत कितनी बार गलतियां करेंगे।

राजस्थान की जनता के साथ 13 माह में कितनी गलतियां की, यह बताएं और आगे से कितनी करेंगे यह भी बता दें। कोई पूर्व विधायक और पार्टी के जो पार्षद हैं, उनको भगाने का दूसरी उसके खिलाफ कार्रवाई होती है।

यह फिल्म का ट्रेलर है, शक्ति के बारे में आने वाले समय में पता लगेगा। पहले कैडर की पार्टी थी, अब मासेज की पार्टी है।

घनश्याम तिवारी को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में सतीश पूनिया ने कहा कि जो घर छोड़कर चला जाए, उसके बारे में महिमा मंडल के लिए ताम्रपत्र देने की आवश्यकता नहीं है।

दूसरे दलों से भाजपा में आने वाले लोगों के सवाल पर उन्होंने कहा कि जिन पंचायती राज में आधार होगा तो आएंगे 1 दर्जन से अधिक लोग भाजपा में होंगे शामिल।

मुख्यमंत्री अपनी कुर्सी के पाए हिलने से आशंकित है। मुझे लगता है उससे पहले अपने पुत्र की क्रिकेट की कुर्सी को खतरा नहीं हो जाए, इसलिए वे शरद पवार से लगातार मुलाकात करने जाते रहते हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का भविष्य क्या होगा ना अभी थोड़ा जल्दी होगा लेकिन कहीं ना कहीं मुझे लगता है, आशंका थी जो मैंने प्रकट करी है। यह भविष्य बताएगा आगे क्या होगा।