मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट की लड़ाई में कूदे स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा

sachin pilot ashok gehlot
sachin pilot ashok gehlot

Kota news

राजस्थान में कोटा जिले में स्थित जेके लोन अस्पताल में बच्चों की मौत का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच जोधपुर और बीकानेर के जिला अस्पताल भी बच्चों के लिए कब्रगाह साबित हो रहे हैं।

एक तरफ सरकारी लापरवाही और डॉक्टरों के द्वारा की जा रही कारगुजारी के चलते गरीब परिवारों के बच्चों की मौत हो रही है, तो दूसरी तरफ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा आपस में उलझ गए हैं।

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा है कि चिकित्सा विभाग की तरफ से बार-बार पीडब्ल्यूडी विभाग को पत्र लिखकर अस्पताल की छत ठीक करवाने के लिए कहा गया, लेकिन कुछ नहीं करवाया गया।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हर महीने मीटिंग होती है और सभी जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी बनती है कि अपने अपने क्षेत्र में होने वाली दिक्कतों से सरकार को जानकारी उपलब्ध करवाए, लेकिन किसी ने भी इस बारे में ध्यान नहीं दिया।

गौरतलब है कि 1 दिन पहले ही कोटा अस्पताल पहुंचे सचिन पायलट ने कहा था कि हम भले ही पिछली सरकार पर आरोप लगाते रहें और पिछली सरकार के समय जितने बच्चे मरे थे, उसे कम बच्चे मरने का दावा करते रहें, लेकिन किसी ने किसी को इन बच्चों की मौत की जिम्मेदारी लेनी होगी।

इससे पहले अशोक गहलोत ने बीजेपी के द्वारा सवाल करने पर कहा था कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार के वक्त 5 साल में जितने बच्चे मरे हैं, उससे कम बच्चे इस साल मरे हैं। इसी पर विवाद शुरू हुआ था।

यह भी पढ़ें :  नागरिकता संशोधन अधिनियम किसी धर्म व मजहब के खिलाफ नहीं है

अशोक गहलोत के बयान के बाद उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने जिम्मेदारी तय करने की बात कही, तो अशोक गहलोत खेमे के माने जाने वाले मंत्री रघु शर्मा ने पीडब्ल्यूडी द्वारा छत ठीक नहीं करवाए जाने की बात कहकर सचिन पायलट पर ही आरोप लगा दिया है।