हुंकार भरने जयपुर में आई राजपूत करणी सेना की निकली हवा, 40 हज़ार की व्यवस्था, 200 ही आए

जयपुर।

चुनाव से पहले कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के साथ दबाव बनाकर कथित तौर पर सौदेबाजी करने का प्रयास कर रहे हैं राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय संयोजक लोकेंद्र कालवी का सपना तब धरा रह गया जब राजधानी जयपुर में उनके द्वारा शनिवार को हुंकार भरने के लिए राजपूत हुंकार रैली बुरी तरह विफल हो गई।

राजपूत करणी सेना ने राजधानी जयपुर के विद्याधर नगर क्षेत्र में 40000 लोगों के लिए कुर्सियां लगाई थी, लेकिन सुबह 11:00 बजे शुरू होने वाली हुंकार रैली में 2:00 बजे तक भी जब 200 लोग एकत्रित नहीं हुए तो संयोजक लोकेंद्र कालवी ने गिने चुने लोगों को संबोधित करके इतिश्री कर ली।

fb img 15406495444292250789856227876592

हालांकि यहां पर भी पहले की भांति लोकेंद्र कालवी भारतीय जनता पार्टी की तरफ झुके हुए से नजर आए। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी जहां पर राजपूत समाज से केवल 10-12 लोगों को टिकट देती है वहीं बीजेपी 25 लोगों को टिकट देकर राजपूत सम्मान को बरकरार रखे हुए है।

रैली के बुरी तरह विफल होने को लेकर लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा कि आज करवा चौथ है, इसलिए राजपूत माताएं-बहनें इस हुंकार रैली में नहीं आ पाई हैं, लेकिन पुरुष क्यों नहीं आए, इस बात की राजपूत करणी सेना जांच करेगी।

fb img 15406495272358950606367553385492

अपनी निष्पक्षता साबित करने के लिए लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा कि कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी दोनों के साथ बातचीत जारी है। दोनों में से जो भी पार्टी अधिक टिकट देगी उसी के साथ राजपूत समाज खड़ा रहेगा।

आपको बता दें की राजस्थान में पिछले साल पद्मावत फिल्म को लेकर उपजे विवाद के दौरान राजपूत करणी सेना सुर्खियों में आई थी। उसके बाद लगातार यह संगठन राजपूत समाज को उचित सम्मान देने और अब चुनाव के वक्त समुदाय से अधिक से अधिक लोगों को टिकट देने की मांग कर रहा है।

यह भी पढ़ें :  बजट में किसानों की चर्चा बंद करे सरकार, बजट 2020-21 किसानों के लिए है ही नहीं- रामपाल जाट

fb img 15406495333792532373205926882146

इधर निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल सोमवार को मानसरोवर में 1500000 लोगों के साथ किसान हुंकार महारैली का आयोजन करने का दावा कर रहे हैं।

विधायक बेनीवाल ने आज पिंक सिटी प्रेस क्लब में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कल जयपुर में वाहन रैली निकाली जाएगी। जिसमें हजारों की संख्या में टू व्हीलर फोर व्हीलर और ट्रैक्टर शामिल होंगे।

बेनीवाल ने दावा किया की 29 अक्टूबर को जयपुर में इतनी बड़ी रैली होगी जितनी आज तक राजस्थान के इतिहास में कभी किसी भी नेता ने नहीं की थी। उन्होंने दावा किया कि राजस्थान में अगला विधानसभा चुनाव

201810271439316355 Hanuman Beniwal does not do anything lightly Maharara SECVPF

तीसरे मोर्चे की पार्टियां जीतेगी और सरकार बनाएगी।

एक सवाल के जवाब में हनुमान बेनीवाल ने कहा कि उनकी वरिष्ठ विधायक घनश्याम तिवाड़ी के साथ बातचीत चल रही है, पार्टी के गठन के बाद उनके साथ राजस्थान में गठबंधन को लेकर चर्चा की जाएगी।

इसके साथ ही बेनीवाल ने कहा कि राजस्थान में बहुजन समाजवादी पार्टी और समाजवादी पार्टी के अलावा वामपंथी नेताओं के साथ भी गठबंधन करके कांग्रेस और बीजेपी को मात देने के लिए रणनीति बनाई जाएगी।