राजस्थान के मेडिकल कॉलेजों में 257 शिक्षकों की होगी भर्ती

राजस्थान मेडिकल सोसायटी के अधीन संचालित भरतपुर, भीलवाड़ा, पाली, चूरू एवं डूंगरपुर के मेडिकल कॉलेजों के लिए आचार्य से जूनियर रेजीडेंट स्तर तक के 525 नवीन पदों के सृजन को मंजूरी दी है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसकी जानकारी देते हुए बताया है कि सरकार लगातार मेडिकल कॉलेजों में शिक्षकों की कमी को ध्यान में रखते हुए इस तरह के फैसले ले रही है।

https://www.facebook.com/184278081698180/posts/4696679340458009/

इस मंजूरी से इन मेडिकल कॉलेजों में 5वें बैच के साथ ही स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रारंभ हो सकेंगे और नेशनल मेडिकल कमीशन के नियमों के अनुरूप कॉलेजों का संचालन संभव हो सकेगा।

प्रस्ताव के अनुसार प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में आचार्य के 5, सह आचार्य के 21, सहायक आचार्य के 35, वरिष्ठ प्रदर्शक के 10, सीनियर रेजीडेंट के 13 और जूनियर रेजीडेंट के 21 पद सृजित किए जाएंगे। इस प्रकार हर कॉलेज में 105 नवीन पदों का सृजन होगा।

यह भी पढ़ें :  पशुपालकों के लिए 'सफेद हाथी' बन रही हैं दुधारू भैंस-गाय