लो भाई! अशोक गहलोत भूल गए कोरोना रोकने को क्या लगाया था?

-3 मई से राजस्थान में लगा है “रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा”, इससे पहले 2 मई तक “जन अनुशासन पखवाड़ा” घोषित किया गया था, जिसके बाद भी मरीजों की संख्या में कमी नहीं आई थी।

जयपुर। राजस्थान में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य सरकार के द्वारा 3 मई से 15 दिन के लिए रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा शुरू किया गया है। इस को लेकर राज्य सरकार के द्वारा तमाम तरह की गाइडलाइन विभिन्न समाचार पत्रों के माध्यम से बताई गई है।

3 मई को जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा रेड अलर्ट जाना अनुशासन पर पड़ा शुरू किया गया, तभी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी मंत्रियों विधायकों और उच्च अधिकारियों को संबोधित करते हुए राज्य की जनता को मैसेज दिया कि राज्य में अभी 15 दिन के लिए एक नई व्यवस्था शुरू की गई है।

लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा का नाम भूल गए। इसको लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत यह नहीं बता पा रहे हैं कि राज्य सरकार के द्वारा रेड अलर्ट जन अनुशासन पकवाड़ा घोषित किया गया है।

मुख्यमंत्री पिछले बार 15 दिन के लिए अनुशासन पकवाड़ा घोषित किया गया था, उसका तो जिक्र कर रहे हैं, किंतु अगले 15 दिन को क्या किया गया है, उसके बारे में नहीं बता पा रहे हैं। नीचे दिए गए यूट्यूब लिंक को क्लिक करके आप भी देखिए क्या कह रहे हैं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत-

गौरतलब है कि राजस्थान में प्रतिदिन मृतकों की संख्या 150 से ऊपर चल रही है। पिछले 1 सप्ताह से करीब यही आंकड़ा है और नए मरीजों की तादाद में 16000 से लेकर 17000 के आसपास आ रही है। इसके चलते राज्य की सरकार के द्वारा रेड अलर्ट जन अनुशासन पकवाड़ा घोषित किया गया है, जो 17 मई तक रहेगा।

यह भी पढ़ें :  पढ़िए हेमाराम चौधरी के इस्तीफे पर क्या बोले सचिन पायलट?