पुलिस-प्रशासन कांग्रेस के एजेंट की तरह काम कर रहे, भाजपा कार्यकर्ताओं पर मुकदमे दर्ज करना कांग्रेस के चुनाव हारने की बौखलाहट

-सरकार हारेगी, सरकार की मशीनरी हारेगी, जनता तीनों सीटों पर भाजपा का कमल खिलायेगी। भाजपा के कार्यकर्ताओं की जितनी तारीफ करूं, शब्द कम पड़ जायेंगे, जिन्होंने सरकार, मशीनरी, बदनीयति और पुलिस के खिलाफ लड़ाई लड़ी। पुलिस प्रशासन का नंगा नाच इन तीनों विधानसभा क्षेत्रों में देखने को मिला, राजसमंद में भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पैसे बाँटते पकड़ा: डाॅ. पूनियां

जयपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने भाजपा प्रदेश कार्यालय पर प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य में गहलोत सरकार के खिलाफ लोगों में आक्रोश है।

इस बात को हम लगातार कह रहे हैं और पिछले दिनों पंचायतीराज चुनाव में भी जनता ने इस बात को साबित किया एवं उपचुनाव के नतीजे भी इनको बड़ा सबक सिखायेंगे।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि राजसमंद में सरकारी मशीनरी का, पुलिस का, प्रशासन का दुरुपयोग हुआ और आधी रात को भाजपा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया, उससे मुझे लगता है कि हम चुनाव कांग्रेस पार्टी के खिलाफ नहीं सरकारी मशीनरी के खिलाफ लड़ रहे हैं।

पुलिस और प्रशासन कांग्रेस के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं, अपराध करने वाले कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं को तो तत्काल रिलीज कर दिया गया और भाजपा के कार्यकर्ताओं पर मुकदमे दर्ज करना, कांग्रेस पार्टी की हताशा एवं चुनाव हारने की बौखलाहट साफ तौर पर दिख रही है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि मैं खुद तीनों विधानसभा क्षेत्रों के दौरे पर रहा, वहाँ सरकारी मशीनरी का भरपूर दुरूपयोग हो रहा है, हालात ऐसे हैं कि वहाँ सरकारी मशीनरी चुनाव लड़ रही है, कांग्रेस नहीं।

यह भी पढ़ें :  ‘मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना के निर्माण में हुए भ्रष्टाचार पर क्या आप गौरव महसूस करती हैं?’—पायलट

भाजपा कार्यकर्ताओं का अभिनन्दन करता हूँ कि उन्होंने अपने परिश्रम से सरकारी मशीनरी और गहलोत सरकार से डटकर मुकाबला किया।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि राजसमंद में कल रात को और आज सहाड़ा में जो घटनाएं हुई हैं, उससे स्पष्ट हो गया कि सरकार की नीयत में बहुत पहले से खोट था। पंचायतीराज चुनाव में जिस तरीके से चोट खाई उससे आहत होकर ये सरकार सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर रही है।

पुलिस प्रशासन का नंगा नाच इन विधानसभा क्षेत्रों में देखने को मिला, भाजपा कार्यकर्ताओं को डराया-धमकाया गया, मारपीट की गई और प्रताड़ित किया गया।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि राजसमंद की सांसद ने इससे पहले भी कहा था कि उनको भयभीत करने का प्रयास किया जा रहा है।

उनको सुरक्षा देना तो दूर, सुरक्षा हटाई गई और कल जब रात को कांग्रेस के लोगों को पैसे बाँटते हुए रंगे हाथों भाजपा कार्यकर्ताओं ने पकड़ा, तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर कार्यवाही करने के बजाए पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को रातभर थाने में रखा, उन्हें प्रताड़ित किया गया।

तीनों ही सीटों पर सरकार के कई मंत्रियों एवं विधायकों ने पुलिस प्रशासन के जरिये आमजन, पार्टी कार्यकर्ताओं एवं व्यापारियों को डराया-धमकाया।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि हमने केन्द्रीय चुनाव आयोग और राज्य चुनाव आयोग को भी इसके बारे में शिकायत की है, जो इनपुट हमारे पास हैं, कार्यकर्ताओं ने जो फीडबैक दिया है।

उसके आधार पर कह सकता हूँ कि मत प्रतिशत का बढ़ना इस तरीके से महिलाओं ने बड़ी संख्या में मतदान किया है। ये इस बात का संकेत है कि सरकार के खिलाफ लोगों में बड़ी नाराजगी है, मैं खुद नरेगा के मजदूरों से मिला।

यह भी पढ़ें :  Covid-19 के भीलवाड़ा में 24 मामले, राज्य में कुल 52 पॉजिटिव

अनेक सामाजिक वर्ग के लोगों के बीच में गया, जो प्रमुख मुद्दे लोगों ने बताये उसमें सम्पूर्ण किसानों की कर्जामाफी, बेरोजगारी, बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था, गाँवों का विकास ठप होना, लम्बित भर्तियाँ, रूका हुआ बेरोजगारी भत्ता, संविदाकर्मियों का नियमितीकरण नहीं होना इत्यादि।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि हमारे सहाड़ा के प्रभारी जोगेश्वर गर्ग ने ट्विटर पर एक फोटो डाली, जिसमें साफ-साफ दिखाई दे रहा है कि नरेगा के मजदूरों को ग्राम विकास अधिकारी बस में बैठाकर ले जा रहा है।

कांग्रेस के पक्ष में अपील कर रहा है, ना तो कोरोना की गाइडलाइन का पालन है और चुनाव आयोग के नियमों की धज्जियाँ भी उड़ाई जा रही हैं, बावजूद मुख्यमंत्री ने कोविड गाइडलाइन को लेकर कल लम्बा-चैड़ा भाषण दिया था।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत ने महात्मा गाँधी की तर्ज पर शांति, अहिंसा और लोकतंत्र का भाषण दिया, उसमें उन सारी चीजों का उल्लेख किया, कोरोना की गाइडलाइन का, निष्पक्ष चुनाव का, बाकि सब मुद्दों का, लेकिन वो भूल गये कि खुद उन्होंने कितनी बार कोरोना की गाइडलाइन तोड़ी है, उनके लोगों ने तोड़ी है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि सरकार हारेगी, सरकार की मशीनरी हारेगी और भाजपा के तमाम नेताओं और कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करता हूँ, जिस तरीके से उन्होंने सरकार के खिलाफ, मशीनरी के खिलाफ, बदनीयति के खिलाफ, पुलिस के खिलाफ जो लड़ाई लड़ी है।

भाजपा कार्यकर्ताओं की जितनी तारीफ करूं, शब्द कम पड़ जायेंगे, जिन्होंने जोश एवं जज्बे से इन तीनों ही विधानसभा उपचुनावों में फिजा बदली है और निश्चित रूप से जनता मोदी सरकार की कल्याणकारी नीतियों पर मुहर लगाते हुए तीनों ही सीटों पर भाजपा का कमल खिलायेगी।

यह भी पढ़ें :  रात 12 बजे से सभी निजी वाहनों पर रोक, टोल नाके बन्द

प्रेसवार्ता में डाॅ. पूनियां के साथ पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. अरूण चतुर्वेदी, प्रदेश मंत्री जितेन्द्र गोठवाल, प्रदेश मीडिया प्रभारी विमल कटियार, पूर्व प्रदेश प्रवक्ता लक्ष्मीकान्त भारद्वाज इत्यादि मौजूद रहे।