तीनों उपचुनाव में कांग्रेस की हार तय, भाजपा की होगी बड़ी जीत: डाॅ. सतीश पूनियां

कांग्रेस सरकार को सबक सिखाने के लिए जनता आतुर। तीनों विधानसभाओं में कांग्रेस के खिलाफ माहौल, भाजपा की जीत निश्चित। मतदाताओं से आग्रह, कोरोना गाइडलाइन की पालना के साथ अधिकाधिक मतदान करें: डाॅ. पूनियां

जयपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने कहा कि जनता ने तय कर लिया है कि तीनों विधानसभाओं में वो भाजपा को जिताकर कांग्रेस की विदाई तय करेगी।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि कानून व्यवस्था की बदहाली, बढ़ती बेरोजगारी, किसानों से कर्जमाफी के नाम पर वादाखिलाफी, बिजली-पानी के बिलों में भारी बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस सरकार को सबक सिखाने के लिए जनता कांग्रेस के खिलाफ मतदान करेगी।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि पूरे चुनाव प्रचार में भाजपा के प्रति जनता का उत्साह और समर्थन देखने को मिला, कांग्रेस के तमाम षड़यंत्रों और दुष्प्रचार के बावजूद लोग भाजपा पर विश्वास जताते हुए नजर आये।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और तमाम मंत्री सरकार के ढ़ाई साल के बाद भी खाली हाथ जनता के बीच गये, अपनी सरकार की एक भी उपलब्धि को जनता के बीच प्रमाणित नहीं कर पाये।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद करने का आक्रोश भी जनता में साफ दिख रहा है।

किसान अपने कर्ज की माफी का इंतजार कर रहा है, युवा बेरोजगारी भत्तों से लेकर नौकरी का इंतजार कर रहा है, संविदाकर्मी नियमितीकरण का इंतजार कर रहे हैं, जनता बिजली-पानी के बिलों में राहत का इंतजार कर रही है।

प्रदेश की माताएं-बहनें उनके खिलाफ रोज घटित हो रही घटनाओं पर लगाम लगने का इंतजार कर रही है पर सरकार असंवेदनशील होकर जनता को केवल परेशान होते देख रही है, इसलिए अब इन तीनों उपचुनावों में जनता कांग्रेस को सबक सिखायेगी।

यह भी पढ़ें :  थानाधिकारी आत्महत्या प्रकरण की सीबीआई जांच हो - नैण

डाॅ. पूनियां ने कहा कि सरकार की लापरवाही से राज्य में कोरोना बेकाबू हो गया है। केन्द्र की मोदी सरकार कोरोना के टीके से लेकर दवाईयों तक की मदद राज्य सरकार को कर रही है, लेकिन मुख्यमंत्री और सरकार के स्तर पर इस महामारी से जनता को बचाने के लिए किसी भी तरह के प्रभावी इंतजाम नहीं किये गये हैं। सरकारी अस्पतालों में अव्यवस्थाओं का आलम है और निजी अस्पताल जनता को लूट रहे हैं।

मुख्यमंत्री केवल बयानबाजी और अपनी जिम्मेदारी केन्द्र पर डालने में मशगूल हैं एवं जिन पर राज्य की चिकित्सा व्यवस्था का जिम्मा हैं, वो चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा अपनी पार्टी को चुनाव जिताने के लिए प्रदेश की जनता को भगवान भरोसे छोड़कर पिछले 2 महीने से सहाड़ा में डेरा डालकर बैठे हैं।

डाॅ. पूनियां ने तीनों विधानसभाओं के मतदाताओं से अपील की कि वो कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए भारी संख्या में अपने मताधिकार का प्रयोग करें।