न्याय मांगने गई 26 वर्षीय युवती के साथ 54 साल के सब इंस्पेक्टर ने 3 दिन तक थाने में किया बलात्कार

अलवर। अपने पति की प्रताड़ना से परेशान 26 वर्षीय एक युवती के साथ अलवर के खेड़ली थाना में 54 साल के सब इंस्पेक्टर भरत सिंह जादौन के द्वारा लगातार तीन दिन तक थाना परिसर स्थित अपने क्वार्टर में बलात्कार किया गया।

मामले की जानकारी सामने आने के बाद सब इंस्पेक्टर आरोपी भरत सिंह जादौन को धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं। इसके साथ ही पुलिस विभाग के द्वारा आरोपी को निलंबित कर दिया गया है।

जयपुर रेंज आईजी हवा सिंह घुमरिया ने बताया कि आरोपी सब इंस्पेक्टर भरत सिंह जादौन के द्वारा न्याय मांगने आई महिला को उसके पति के साथ काउंसलिंग कर मामला निपटाने का झांसा देकर थाना परिसर में ही स्थित अपने कमरे में लगातार तीन दिन तक बलात्कार किया गया। आरोपी के खिलाफ धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।

लक्ष्मणगढ़ के पुलिस उप अधीक्षक अशोक चौहान ने बताया कि महिला 2 मार्च को शाम 5:30 बजे थाने में आई थी, जिसका आरोपी सब इंस्पेक्टर भरत सिंह यादव ने परिवाद दर्ज कर लिया महिला ने बताया कि उसका पति उसे तलाक देने की धमकी देता है और वह तलाक नहीं देना चाहती है। इस पर आरोपी ने कहा कि उसके पति को समझाया जाएगा और इसके बाद 26 वर्षीय पीड़ित महिला को अपने कमरे में ले गया और वहां पर दुष्कर्म किया।

इसके बाद सब इंस्पेक्टर ने महिला को 3 मार्च और 4 मार्च को भी आने पर बुलाया और उसके साथ बलात्कार किया। रविवार को महिला ने जब उसके साथ चौथी बार बलात्कार करने की कोशिश हो रही थी, तब हिम्मत जुटाकर सब-इंस्पेक्टर के बारे में अन्य स्टाफ को जानकारी दी।

यह भी पढ़ें :  फोन टैपिंग कांड के बीच वसुंधरा राजे की रहस्यमई चुप्पी!

जयपुर रेंज आईजी हवा सिंह घुमरिया ने बताया कि आरोपी मनोज सिंह जादौन के खिलाफ धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन गंभीर बात यह है कि महिला के साथ 3 दिन तक थाने में बलात्कार होता है और किसी पुलिसकर्मी को पता क्यों नहीं चला? क्या पुलिस कर्मियों के द्वारा अपने सब इंस्पेक्टर को लगातार बचाया जा रहा है? अलवर में पुलिसकर्मी के ऊपर रेप का इस सप्ताह में दूसरा मामला है।