5 राज्यों में विधानसभा चुनाव: 27 मार्च से शुरू होंगे चुनाव, 2 मई को आएगा परिणाम

नई दिल्ली। देश के 5 राज्यों पश्चिम बंगाल, केरल, असम, तमिलनाडु और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव के लिए ऐलान कर दिया गया है। चुनाव आयोग के द्वारा कहा गया है कि 27 मार्च से चुनाव शुरू होंगे और 2 मई को परिणाम आएगा।

सभी राज्यों में अलग-अलग चरणों में मतदान कराने का फैसला किया गया है। कोविड-19 के वैश्विक महामारी के मद्देनजर दिशा निर्देशों का पालन करना प्रत्येक राज्य के प्रशासन के लिए अनिवार्य होगा। सभी चुनाव अधिकारियों और कर्मचारियों का वैक्सीनेशन किया जाएगा।

पश्चिम बंगाल में आठ चरण में होंगे मतदान

पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में मतदान होगा। बंगाल में 27 मार्च को पहले चरण में मतदान होगा। दूसरे चरण में 1 अप्रैल को मतदान होगा।

असम में 3 चरणों में होंगे मतदान

असम में विधानसभा चुनाव 3 चरणों में होंगे। मतगणना 2 मई को होगी।
पहला चरण-47
चुनाव की अधिसूचनाः 2 मार्च 
नामांकन की आखिरी तिथिः 9 मार्च
नामांकन पत्रों की जांचः 10 मार्च
नाम वापसी की तिथिः 12 मार्च
मतदान की तिथिः 27 मार्च
मतगणना की तिथिः 2 मई को आएंगे नतीजे।

तमिलनाडु और केरल में 1 चरण में मतदान

तमिलनाडु और केरल में महज एक चरण में मतदान होगा। मतदान 6 अप्रैल को होगा। मतगणना दो मई को कराई जाएगी। इसी तरह केरल में भी 6 अप्रैल को ही मतदान होगा।

तमिलनाडु और केरल में 1 चरण में मतदान

तमिलनाडु और केरल में महज एक चरण में मतदान होगा। मतदान 6 अप्रैल को होगा। मतगणना दो मई को कराई जाएगी। इसी तरह केरल में भी 6 अप्रैल को ही मतदान होगा।

असम में 2016 विधानसभा चुनाव में 24,890 चुनाव केंद्र थे, 2021 में चुनाव केंद्रों की संख्या 33,530 होगी। तमिलनाडु में 2016 विधानसभा चुनाव में 66,007 चुनाव केंद्र थे, 2021 में चुनाव केंद्रों की संख्या 88,936 होगी।

यह भी पढ़ें :  नवम्बर से टिड्डी दलों का मूवमेंट, राज्य सरकार समय पर एक्शन लेती तो नहीं होता इतना नुकसान - वसुंधरा राजे

केरल में पहले 21,498 चुनाव केंद्र थे, अब यहां चुनाव केंद्रों की संख्या 40,771 होगी। पश्चिम बंगाल में 2016 में 77,413 चुनाव केंद्र थे अब 1,01,916 चुनाव केंद्र होंगे।