18 तारीख को जयपुर में रोकेंगे रेल

जयपुर। केंद्र सरकार के द्वारा बनाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर रेल रोकने का काम किया जाएगा। इसी क्रम में जयपुर में किसान नेता नरेश मीणा के नेतृत्व में बालाजी ग्राउंड पर किसान एकत्रित होंगे, उसके बाद वहीं जगतपुरा में रेल रोकी जाएगी।

पिंक सिटी प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए नरेश मीणा ने बताया कि केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा किसानों की जमीन हड़पने के लिए तीन कृषि कानून बनाए गए हैं, जिनको स्वीकार नहीं किया जाएगा और जब तक यह काले कानून वापस नहीं होंगे, तब तक देश भर में आंदोलन जारी रहेगा।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में नरेश मीणा, खुशीराम गुर्जर, मनीषा मीणा, रेशमा आदिवासी आदि भी मौजूद रहीं। खुशीराम ने बताया कि रेल रोकने का कार्यक्रम करने से पहले बालाजी ग्राउंड पर सभा का आयोजन किया जाएगा, उसके बाद दोपहर 11 से 3 बजे तक रेल रोकी जाएगी।

रेशमा आदिवासी और मनीषा मीणा ने बताया कि देश में किसानों का 80 दिन से आंदोलन चल रहा है, लेकिन इसके बावजूद केंद्र की मोदी सरकार इन काले कानूनों को वापस लेने को तैयार नहीं है। जब तक यह कानून वापस नहीं होंगे, तब तक देश में आंदोलन जारी रहेगा, बल्कि बड़े पैमाने पर किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि 18 फरवरी को देश भर में भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर रेल रोको कार्यक्रम किया जा रहा है। जयपुर में होने वाले कार्यक्रम को लेकर नरेश मीणा ने बताया कि 20000 लोग एकत्रित होंगे।

यह भी पढ़ें :  सचिन पायलट को मंच से उतारना अशोक गहलोत को भारी पड़ा, मामला प्रियंका गांधी के संज्ञान में पहुंचा