निलंबित महिला RAS की गिड़गिड़ाहट: 16 को शादी है, 12 को मेहंदी जज साहब मुझे जमानत दे दीजिए

जयपुर। दौसा और बस्सी के एसडीएम पुष्कर मित्तल व पिंकी मीणा, जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा बहुउद्देशीय परियोजना के निर्माण में लगी हुई कंपनी से रिश्वत मांगने के आरोप में पिछले दिनों एसीबी के द्वारा दबोचे गए हैं उन्होंने कोर्ट में जमानत याचिका लगाई।

पिंकी मीणा ने कोर्ट में कहा कि जज साहब मेरी 16 तारीख को शादी है और 12 तारीख को मेहंदी की रस्म आयोजित शुरू हो जाएगी। ऐसे में मुझे जमानत दे दी जाए कोर्ट ने कहा कि इसके लिए आप अलग से अंतरिम जमानत याचिका दायर कीजिए।

कोर्ट के सख्त रुख के चलते हैं दूसरे आरएएस अधिकारी पुष्कर मित्तल ने अपनी जमानत याचिका वापस ले ली। अब पुष्कर मित्तल की तरफ से अलग से कभी कोई जमानत याचिका दायर की जाएगी। फिलहाल कोर्ट ने पिंकी मीणा की अंतरिम जमानत याचिका देने के निर्देश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि दोनों एसडीएम पिछले दिनों एसीबी के हत्थे चढ़ गए थे, जब पिंकी मीणा खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ वर्चुअल मीटिंग में जुड़ी हुई थी और उसी वक्त कोने में जाकर ₹500000 की रिश्वत मांग रही थी।

रिश्वत के आरोप में निलंबित पिंकी मीणा की 16 फरवरी को शादी है। उससे पहले 12 फरवरी को विवाह की सभी रस्में शुरू हो जाएगी, जिसके चलते पिंकी मीणा के वकील ने कोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी।

यह भी पढ़ें :  मंत्री अशोक चांदना को बर्खास्त कर गिरफ्तार करने के लिए सांसद ने गहलोत को