वसुंधरा राजे ने भाजपा से की खुलकर बगावत!

-करोड़ों-करोड़ों हिन्दूओं के हदय में जय श्रीराम के नारे लगते है, ममता बनर्जी को भी जय श्रीराम का नारा लगाना चाहिये: अरूण सिंह भाजपा नेता।

जयपुर। भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पार्टी में खुलकर बगावत कर दी है। रविवार को राजस्थान में भाजपा की कोर कमेटी का गठन होने के बाद पहली बैठक थी, जिसमें वसुंधरा राजे शामिल नहीं हुईं।

बताया गया कि उनकी पुत्रवधू की तबीयत खराब होने की वजह से वह इस बैठक में शामिल नहीं हो पाई है, किंतु जिस तरह से पिछले दिनों से लगातार इस बात की संभावनाओं की चर्चा जोरों पर है कि वसुंधरा राजे धीरे-धीरे पार्टी के खिलाफ बगावत की तरफ बढ़ रही हैं।

भाजपा अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां की ताजपोशी के बाद करीब डेढ़ साल के दौरान प्रदेश की तमाम बैठकों से दूरी बनाए रखने वालीं वसुंधरा राजे कोर कमेटी की पहली बैठक में शामिल नहीं हुईं, लेकर चर्चा तेज हो गई है कि वसुंधरा राजे ने संभवत अब राष्ट्रीय नेतृत्व को प्रदेश संगठन के माध्यम से सीधी चुनौती देने का मन बना लिया है।

राजस्थाान प्रभारी ने पूर्व मुख्यमंत्री वंसुधरा राजे का पार्टी कार्यक्रमों से नदारद रहने के सवाल पर कहा कि हमारी पार्टी में सब एक है जाजम पर है, हमारी पार्टी के अन्दर मतभेद हो सकते हैं, लेकिन मनभेद नहीं हैं।

विरोध तो कहते रहेगें कि गहलोत-वंसुधरा एक हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। वंसुधरा राजे सड़क पर सघर्ष कर रही हैं। आज कोर कमेटी की बैठक में वंसुधरा राजे इसलिये नहीं आईं, क्योंकि उनकी पुत्रवधू की तबियत नासाज है, नाराजगी जैसे कोई बात नहीें है।

यह भी पढ़ें :  अशोक गहलोत: अपने ही राजनीतिक गुरू की सियासी हत्या कर संभाली थी प्रदेश की कमान

बता दें राजस्थान भाजपा के प्रभारी और बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री अरूण सिंह रविवार को राजस्थान प्रदेश भाजपा कार्यलय के अन्दर मीडिया से रूबर हुए इस दौरान उन्होंने बंगला में जय श्रीराम के पर उपजें विवाद पर जवाब देते हुए कहा कि करोड़ों-करोड़ों हिंदूओं के हदय में आत्मा में जय श्रीराम के नारे लगते हैं।

करोड़ों लोगों ने जान की आहूति दी फिर यह गौरव प्राप्त हो रहा है। ममता बनर्जी को भी जय श्रीराम का नारा लगाना चाहिये। ममता बनर्जी और कांग्रेस पार्टी नेताओं को भी जय श्रीराम का नारा लगाना चाहिये।

कांग्रेस पर जमकर साधा निशाना
अरूण सिंह ने पत्रकार वार्ता के अन्दर जमकर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा यू टर्न करती रहती हैं। कांग्रेस पार्टी में आपस का विरोधाभास है। लाॅकडाउन के दौरान वह देखने को मिला था। राहुल गांधी एक ओर ट्वीट कर रहे थे कि वैक्सीन कब आयेगी?

जब वैक्सिन आ गयी तो उनके नेता जयराम रमेश और शशी थरूर उस वैक्सिन पर सवाल खड़े करने लग गये हैं। वैक्सिन को लेकर भी यू टर्न लिया कांग्रेस पार्टी ने और देश के वैज्ञानिकों का अपमान किया है। अरूण सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने किसानों केा हमेशा से गरीब रखा, किसानों के लिये कुछ नहीं किया।

किसानों की आमदनी दोगुनी करने के प्रयास कर रही नरेन्द्र मोदी सरकार

देश में किसानों की आय दुगनी होने वाली है, उसके लिये काम कर रही है नरेन्द्र मोदी सरकार। लेकिन कांग्रेस पार्टी किसानों के खिलाफ काम कर रही है। देश का किसान कभी भी कांग्रेस को माफ नहीं करेगा।

यह भी पढ़ें :  हनुमान बेनीवाल की वजह से अशोक गहलोत दे सकते हैं इस्तीफा!

2 साल हो गये राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को, पहले पार्टी यह बताएं कि उन्होंने किसानों को 10 हजार रूपये की छूट जो बिजली के बिलों में मिलती तो उसको क्यों बद कर दिया।

आज युवा राजस्थान भर में नौकरी के लिये दर-दर ठोकर खा रहा है। राजस्थान में आज चुनाव हो जाये तो तीन-चौथाई ज्यादा सीटें बीजेपी के पास होगी। अरूण सिंह ने कहा कांग्रेस सरकार के राज में अपिजमेंट की पाॅलिटिक्स हो रही है।

अन्नपूर्ण योजना सहित भाजपा सरकार द्वारा लायी गयी कई योजनाओं को बंद कर दिया गया है। विकास के काम बंद करके जनता को कांग्रेस पार्टी क्यों दड़ दे रही है?