पत्रकार भगवान चौधरी पर हिस्ट्रीशीटर ने किया जानलेवा हमला, पत्रकारों में गहरा रोष

जयपुर। राजधानी जयपुर से प्रकाशित होने वाले प्रमुख अखबार पंजाब केसरी की रिपोर्टर भगवान चौधरी पर कार्यालय जाते वक्त सुबह करीब 11 बजे स्थानीय थाने के हिस्ट्रीशीटर विश्राम गुर्जर द्वारा जानलेवा हमला किया गया।

घटना की गंभीरता देखिए, जिस क्षेत्र में हमला किया गया, उस क्षेत्र के थानाधिकारी के द्वारा अभी तक भी मुख्य आरोपी हिस्ट्रीशीटर विश्राम गुर्जर के खिलाफ करीब 24 घंटे बाद भी गिरफ्तारी की कार्रवाई नहीं की गई है।

आपको बता दें कि मुहाना थाने के थानाधिकारी का हाल ही में पोस्टिंग होने पर गुर्जरों की तलाई के समाज के लोगों द्वारा साफा-माला पहनाकर भव्य स्वागत किया गया था। बताया जा रहा है कि गुर्जरों की तलाई गांव के असामाजिक तत्वों के तभी से होंसले बुलन्द हैं।

पत्रकार भगवान चौधरी के मुताबिक वह सुबह करीब 11:00 बजे घर से ऑफिस के लिए निकला था। थोड़ा आगे चलते ही सड़क पर पीछे से आ रहे वाहन चालकों ने उनकी साइट दबाई तो उन्होंने गाड़ी को साइड में उतार लिया। थोड़ा आगे चलने के बाद एक वह एक पान-बीड़ी की दुकान पर रुका, जहां जिन लोगों ने साइड दबाई थी, वह मिल गए।

भगवान चौधरी उनसे बातचीत कर ही रहे थे कि उन्होंने हमला कर दिया। इसके बाद मुख्य आरोपी, जो स्थानीय मुहाना थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है, विश्राम गुर्जर ने और चार-छह जनों को बुला लिया। मारपीट बढ़ने पर पत्रकार ने जान बचाकर भागना उचित समझा।

भगवान चौधरी ने भागते हुए स्थानीय थाना अधिकारी और आईपीएस अजय पाल लांबा को फोन किया। आईपीएस लांबा ने स्थानीय थानाधिकारी को फोन करके मौके पर पहुंचने के लिए कहा। तब तक हमलावर विश्राम गुर्जर और उसके साथियों ने भगवान चौधरी के साथ और ज्यादा मारपीट कर दी और फिर पुलिस आने तक वे लोग मौके से फरार हो गए।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल ने सामूहिक दुष्कर्म मामले में कार्रवाई नहीं करने और पायलट की खामोशी पर लगाया प्रश्नचिन्ह

इस मामले को लेकर जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव से लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक पत्रकारों के द्वारा गुहार लगाई गई है, लेकिन अभी भी पुलिस तकरीबन नाकाम दिखाई दे रही है। पिंक सिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष मुकेश मीणा, महासचिव राजेंद्र सोलंकी समेत सभी पत्रकार संगठनों के नेताओं द्वारा इस मामले पर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की गई है।

दूसरी तरफ से जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (जार) के प्रदेश अध्यक्ष राकेश कुमार शर्मा के द्वारा जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर इस घटना पर सख्त कदम उठाने और त्वरित कार्रवाई करने की मांग की है।

जार के द्वारा लिखा गया पत्र

श्री अशोक गहलोत जी
माननीय मुख्यमंत्री राजस्थान
विषय: जयपुर के क्राइम रिपोर्टर श्री भगवान चौधरी पर जानलेवा हमले के आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में।
महोदय,
निवेदन है कि पंजाब केसरी जयपुर के क्राइम रिपोर्टर श्री भगवान चौधरी पर आज मंगलवार सुबह मुहाना थाना क्षेत्र में वहां के आदतन अपराधी विश्राम गुर्जर व उनके साथियों ने जानलेवा हमला किया। हमले में उनके चेहरे, मुंह व शरीर के अन्य हिस्सों पर चोटें आई हैं। भगवान चौधरी सुबह अपने घर से मोटर साइकिल से ऑफिस आने के लिए निकले। रास्ते में चौपहिया वाहन में सवार विश्राम गुर्जर व उसके साथियों ने पीछे से मोटर साइकिल को टक्कर मारने की कोशिश की, लेकिन मोटर साइकिल सड़क के नीचे उतारने से वह बच गए। विश्राम गुर्जर वहां से चला गया। भगवान चौधरी बाइक से थोड़ा गया तो मुहाना चौराहे के पास विश्राम गुर्जर व उसके साथियों ने उसे रोक लिया और उसके साथ गंभीर मारपीट की। जिससे उसके मुंह व चेहरे से खून आने लगे। हमलावरों ने गाड़ी से लोहे के सरिये भी मारने के लिए निकाले, लेकिन तब तक वहां लोग जमा होने तथा इसी दौरान भगवान द्वारा फोन करके पुलिस को बुला लेने से वे भाग गए।
महोदय, जयपुर में लगातार पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं। एक युवा पत्रकार अभिषेक सोनी बदमाशों के हमले में अपनी जान गंवा चुका है। फोटोजर्नलिस्ट्स श्री गिरधारी पालीवाल पर जानलेवा हमला हो चुका है। आज भगवान चौधरी पर दिनदहाड़े आधा दर्जन बदमाशों ने जानलेवा हमला किया, जो कि बहुत चिंताजनक है। नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाने के बाद भी मुहाना पुलिस अभी तक हमलावरों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आदतन अपराधी विश्राम गुर्जर व उसके साथी आए दिन मुहाना क्षेत्र में आपराधिक वारदातों को अंजाम देते रहते हैं। इनके खिलाफ कार्यवाही नहीं होने से बदमाशों के हौंसले बुलंद है। इस वजह से विश्राम गुर्जर व उसके साथियों ने पत्रकार भगवान चौधरी पर हमला करके लहुलूहान कर दिया। जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (जार) हमलावरों की जल्द गिरफ्तारी और इनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग करती है।
भवदीय

राकेश कुमार शर्मा संजय सैनी
प्रदेश अध्यक्ष जार प्रदेश महामंत्री जार
9929103959

प्रतिलिपि – श्री आनन्द श्रीवास्तव जी
आयुक्त, जयपुर पुलिस कमिश्नर

यह भी पढ़ें :  अब इस तरह से काम करेगी राजस्थान की सरकार—