18 C
Jaipur
शुक्रवार, जनवरी 22, 2021

सचिन पायलट किसी पद के मोहताज नहीं, सैंकड़ों गाड़ियां, हज़ारों की भीड़ देती है गवाही

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर। यूं तो कोई नेता जब सत्ताधारी होता है, तब जनता उसके इर्द-गिर्द भीड़ के रूप में दिखाई देती है, किन्तु लगता है राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट किसी पद के मोहताज नहीं, यह बात पायलट समर्थकों ने गुरुवार को फिर साबित कर दी। पायलट गुरुवार को सीकर जिले के रींगस में शहीद महेश कुमार मीणा की मूर्ति का अनावरण करने पहुँचे थे।

इस दौरान सचिन पायलट का सीकर जाते व्यक्त रास्ते मे हर 5 किलोमीटर पर हजारों कार्यकर्ताओं के द्वारा 50 से अधिक जगह स्वागत किया गया। सचिन पायलट लगभग 400 से अधिक गाड़ियों के काफिले एवं लगभग एक दर्जन से ज्यादा विधायक के साथ रींगस पहुँचे।

- Advertisement -सचिन पायलट किसी पद के मोहताज नहीं, सैंकड़ों गाड़ियां, हज़ारों की भीड़ देती है गवाही 4

सचिन पायलट का यह काफिला जयपुर से हरमाड़ा, राजावास, रामपुरा, जैतपुरा, चौमू, हाडौता उदयपुरिया मोड़, गोविंदगढ़, सिंगोध, डोडसर, सरगोठ, रींगस तक हर जगह हजारों की संख्या में कार्यकर्ता सचिन पायलट का स्वागत करने के लिए उत्साहित दिखे।

सचिन पायलट किसी पद के मोहताज नहीं, सैंकड़ों गाड़ियां, हज़ारों की भीड़ देती है गवाही 1

पीसीसी के पूर्व चीफ सचिन पायलट को रींगस पहुँचने पर रींगस से गांव लाम्पुंवा तक, जहां शहीद का गांव है, 500 मोटरसाइकिलों के द्वारा एक रैल्ली निकाली गई। कहने का मतलब यह है कि पायलट के जो काफिले जोधपुर, पाली, अजमेर, दौसा, भरतपुर और टोंक जाते वक्त दिखे, वही नजारा यहां दिखा।

- Advertisement -
सचिन पायलट किसी पद के मोहताज नहीं, सैंकड़ों गाड़ियां, हज़ारों की भीड़ देती है गवाही 5
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

पिंकी चौधरी की तरह लौट आएगी मनीषा डूडी?

बीकानेर/जयपुर। जुलाई माह में बाड़मेर के समदड़ी पंचायत से प्रधान रहीं पिंकी चौधरी जब अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भाग गई थीं, तब...
- Advertisement -

जयपुर गौरी माहेश्वरी बनी विश्व की सबसे कम उम्र में कैलीग्राफी टीचर

-हाल ही में एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड से नवाजी गई गौरी। जयपुर। देखने में सुन्दर शब्दों को लिखने की कला को कैलीग्राफी कहा जाता...

ईशान कोण का शमशान लील रहा है विधायकों की जान, विधानसभा में भूत है?

जयपुर। बीते 20 बरस से राजस्थान विधानसभा में ऐसा अवसर केवल दिसंबर 2018 से लेकर अक्टूबर 2020 तक ही आया है, जब सभी 200...

पत्रकार भगवान चौधरी पर हिस्ट्रीशीटर ने किया जानलेवा हमला, पत्रकारों में गहरा रोष

जयपुर। राजधानी जयपुर से प्रकाशित होने वाले प्रमुख अखबार पंजाब केसरी की रिपोर्टर भगवान चौधरी पर कार्यालय जाते वक्त सुबह करीब 11 बजे स्थानीय...

Related news

मनीषा डूडी के साथ क्या लव जिहाद हुआ है?

बीकानेर/जयपुर। बीकानेर जिले की कोलायत तहसील के बांगड़सर गांव की 18 वर्ष की मनीषा डूडी ने पिछले दिनों कोलायत के एक गांव के रहने...

ईशान कोण का शमशान लील रहा है विधायकों की जान, विधानसभा में भूत है?

जयपुर। बीते 20 बरस से राजस्थान विधानसभा में ऐसा अवसर केवल दिसंबर 2018 से लेकर अक्टूबर 2020 तक ही आया है, जब सभी 200...

जाट-राजपूत एक हुए तो उबला बीकानेर, महिपाल सिंह मकराना ने भरी हुंकार

बीकानेर। बीकाजी की नगरी, बीकानेर में रविवार को उबाल मारती हिंदुओं की युवा सेना ने पुलिस की हालत पतली कर दी। करणी सेना के...

पायलट कैम्प को झटका, विधायक गजेंद्र शक्तावत का आकस्मिक निधन

जयपुर। पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट कैंप को एक और झटका लगा है। पायलट के बेहद करीबी उदयपुर जिले की वल्लभनगर विधानसभा सीट से...
- Advertisement -