19 C
Jaipur
सोमवार, जनवरी 18, 2021

शिकायत में जुटे वसुंधरा खेमे के नेता, डॉ पूनियां को मिला फ्री हैंड!

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर। पिछले दिनों 50 नगर निकाय के चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी को आशा अनुकूल सफलता नहीं मिलने की बात कहकर राजस्थान में वसुंधरा राजे खेमे से माने जाने वाले कई नेताओं ने भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व से प्रदेश नेतृत्व की शिकायत की है।

भाजपा सूत्रों का कहना है कि शिकायत करने वाले नेताओं में जयपुर के 2 मौजूदा विधायक, एक पूर्व विधायक और दो राज्यसभा सांसद शामिल हैं। सूत्रों की माने तो भाजपा नेतृत्व को प्रदेश नेतृत्व के द्वारा निकाय चुनाव में टिकट बंटवारा सही नहीं किए जाने और कद्दावर नेताओं को मैदान में नहीं उतारे जाने की शिकायत की गई है।

- Advertisement -शिकायत में जुटे वसुंधरा खेमे के नेता, डॉ पूनियां को मिला फ्री हैंड! 3

भाजपा के दिल्ली सूत्रों का दावा है कि भाजपा के राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा, विधायक कालीचरण सराफ, अशोक लाहोटी और पूर्व विधायक व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी के द्वारा केंद्रीय नेतृत्व से राज्य नेतृत्व, खासतौर से अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया की कार्यशैली को लेकर सवाल उठाते हुए टिकट बंटवारे समेत कई तरह की शिकायत की गई हैं।

इन सभी नेराओं को वसुंधरा राजे खेमे से माना जाता है। शिकायत करने वालों की लिस्ट में कुछ भाजपा कार्यकर्ता केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल का नाम भी ले रहे हैं, जिनका बेटा भाजपा के टिकट के बावजूद पिछले दिनों चुनाव हार गया था।

इधर, जानकारी में आया है कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी दिल्ली पहुंच गई हैं, वह अगले कुछ दिन दिल्ली में ही रहने वाली हैं। इस दौरान उनका जेपी नड्डा से मिलने का भी कार्यक्रम है। उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले ही भाजपा की प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़ और प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर दिल्ली गए थे।

उस दौरान वसुंधरा खेमे के नेताओं के द्वारा जो शिकायतें की गईं, उनको लेकर भी चर्चा हुई है। कुछ लोगों का कहना है कि इन तमाम चारों टॉप नेताओं को वसुंधरा राजे समर्थकों के द्वारा हाल ही में “टीम वसुंधरा राजे” नाम से जो एक अलग मंच बनाया गया है, उसको लेकर राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा बातचीत की गई है और भविष्य की रणनीति पर गहनता से चर्चा की गई है।

उल्लेखनीय है कि 2 दिन पहले ही एक निजी टीवी चैनल के संवाददाता के साथ बात करते हुए राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा था कि टिकट बंटवारे में छोटी-मोटी गड़बड़ नहीं होती तो निकाय चुनाव में भाजपा और ज्यादा बेहतर परिणाम हासिल कर सकती थी।

इससे पहले सोमवार को देर शाम राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया से उनके घर पर करीब करीब एक घंटे तक मुलाकात की थी, जिसके अलग-अलग मायने निकाले जा रहे हैं।

बहरहाल उक्त नेताओं के द्वारा अगर शिकायत की गई है और तो उसका परिणाम भविष्य में क्या होगा, यह कहना फिलहाल जल्दबाजी होगा। किंतु इतना तय है कि राजस्थान भाजपा में जिस तरह से संघनिष्ठ अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां के द्वारा बड़े पैमाने पर संगठनात्मक बदलाव किए जा रहे हैं।

उनके द्वारा ऐसे कार्यकर्ताओं को टिकट देकर आगे बढ़ाने का काम किया जा रहा है, जो बरसों से पार्टी और संघ के प्रति जिम्मेदार रहते हुए बिना किसी लोभ या लालच के संगठन की सेवा कर रहे थे, किंतु एक विशेष गुट के द्वारा पिछले करीब डेढ़ दशक से उनको आगे बढ़ने का मौका नहीं दिया गया था।

इससे साफ है कि सतीश पूनिया की कार्यप्रणाली को लेकर भले ही राज्य के कुछ कथित बड़े नेताओं के दिक्कत हो, किंतु आम कार्यकर्ता बेहद खुश हैं।

कहा जा रहा है कि पिछली मीटिंग में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पंचायत समिति व जिला परिषद के चुनाव परिणाम को देखकर प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया को इस माह की 28 तारीख को होने वाले 90 नगर निकाय के चुनाव, उसके बाद तीन जगह पर विधानसभा सीटों के उपचुनाव के साथ ही 12 जिलों में होने वाले पंचायत समिति व जिला परिषद के चुनाव के लिए भी फ्री हैंड दे दिया गया है।

- Advertisement -
शिकायत में जुटे वसुंधरा खेमे के नेता, डॉ पूनियां को मिला फ्री हैंड! 4
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

राठौड़ ने पत्र लिखकर ऊर्जा मंत्री से बिजली के जानलेवा सिस्टम को सुधारने के लिए कहा

जयपुर। पिछले दिनों झूलती हाई टेंशन लाइन से 6 लोगों की मौतों पर राजस्थान विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने राज्य के ऊर्जा...
- Advertisement -

राठौड़ ने पत्र लिखकर ऊर्जा मंत्री से बिजली के जानलेवा सिस्टम को सुधारने के लिए कहा

जयपुर। पिछले दिनों झूलती हाई टेंशन लाइन से 6 लोगों की मौतों पर राजस्थान विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने राज्य के ऊर्जा...

राजस्थान में रात्रिकालीन कर्फ्यू खत्म, मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक में लिया फैसला

जयपुर। कोरोना वायरस के कारण बीते साल मार्च के महीने से चल रहे राजस्थान में कर्फ्यू को लेकर राज्य सरकार पूरी तरह से रियायत...

जाट-राजपूत एक हुए तो उबला बीकानेर, महिपाल सिंह मकराना ने भरी हुंकार

बीकानेर। बीकाजी की नगरी, बीकानेर में रविवार को उबाल मारती हिंदुओं की युवा सेना ने पुलिस की हालत पतली कर दी। करणी सेना के...

Related news

हनुमान बेनीवाल के से डर प्रो. बीएल जाटावत का इस्तीफा, सरकार ने स्वीकारा

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल के डर से राजस्थान अधीनस्थ कर्मचारी चयन बोर्ड के चेयरमैन प्रोफेसर बीएल...

जाट-राजपूत एक हुए तो उबला बीकानेर, महिपाल सिंह मकराना ने भरी हुंकार

बीकानेर। बीकाजी की नगरी, बीकानेर में रविवार को उबाल मारती हिंदुओं की युवा सेना ने पुलिस की हालत पतली कर दी। करणी सेना के...

पायलट बोले:जिन्होंने सड़क पर लाठियां खाईं, उनको हक मिलना चाहिए

जयपुर। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि वसुंधरा राजे की वर्ष 2013 से 2018 वाली...

अरबों रुपयों के ग्रीनफील्ड कार्गो एयरपोर्ट प्रोजेक्ट का बेड़ा गर्ग करना चाहते हैं अशोक गहलोत

जयपुर। केंद्र सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर पर व्यापार सुगम बनाने के लिए अलवर जिले के भिवाड़ी में एक ग्रीन फील्ड...
- Advertisement -