RLP तीनों विधानसभा उप चुनाव में क्लीन स्वीप करेगी: बेनीवाल

जयपुर। आरएलपी संयोजक और नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने दावा किया कि फरवरी में होने वाले विधानसभा उप चुनाव में तीनों जगह भाजपा-कांग्रेस का क्लीन स्वीप करेगी।

जयपुर में मीडिया से रूबरू होते हुए बेनीवाल ने कहा कि 90 नगर निकाय चुनाव को लेकर पार्टी की रणनीति पर काम कर रहे हैं। खुलासा प्रदेश के 90 निकायों में इस माह होने हैं, उनमें खुद अपने दम पर पार्टी चुनाव लड़ेगी। केंद्रीय कृषि कानून के मामले में उन्होंने साफ किया कि जब तक किसानों की जीत नहीं होगी, तब तक उनका धरना चलता रहेगा।

सांसद ने दावा करते हुए कहा कि तीनों उपचुनाव में आरएलपी अकेले चुनाव लड़ेगी। वसुंधरा राजे ने पीएम नरेंद्र मोदी को सीधा चेलेंज कर दिया, राजे खुद समानांतर पार्टी चला रही हैं, लेकिन भारतीय जनता पार्टी इतनी कमजोर हो गई है कि वसुंधरा राजे के खिलाफ कोई एक्शन नहीं ले पा रही है।

बेनीवाल ने साफ किया कि पार्टी विधानसभा की 3 सीटों पर पुरजोर तरीके के साथ चुनाव लड़ेगी। बेनीवाल ने दावा किया कि केवल भाजपा में ही कहने बाजी नहीं है, बल्कि कांग्रेस में भी इसी तरह से दो धड़े हैं। कांग्रेस में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के रूप में दो धड़े बने हुए हैं जिससे राज्य का विकास अवरुद्ध हो रहा है।

बेनीवाल ने दावा किया कि राजस्थान जो क्राइम के मामले में 19 नंबर पर था, वह आज अशोक गहलोत की नाकाम सरकार के चलते देश में एक नंबर पर आ गया है, क्राइम का लगातार ग्राफ बढ़ रहा है।

इसलिए राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने आज से तय किया है कि हमारी पार्टी के लोग वहां शाहजहांपुर में किसानों के लिए धरना देती रहेगी। आरपीएस चैयरमेन बीएल जतावत को भी फोन टेपिंग का तोहफा दिया है। बेनीवाल ने दावा किया है कि राजस्थान में भी जल्द बड़ा आन्दोलन करेंगे।

यह भी पढ़ें :  सचिन पायलट समेत 19 विधायकों की विधायक़ी पर लटकी तलवार, नोटिस जारी

पार्टी आज सभी 90 नगर निकाय में चुनाव के लिए पार्टी प्रभारियों को लेकर घोषणा करेगी। तीन विधानसभा चुनाव और निकाय चुनाव में भ्रष्ट्राचार के मुद्दे, टोल फ्री राजस्थान, बिजली सब्सिडी और जन हित के मुद्दों पर आरएलपी चुनाव मैदान में उतरेगी।

बेनीवाल ने फिर दावा किया कि तीनों विधानसभा सीटों पर लोकतांत्रिक पार्टी भाजपा-कांग्रेस का क्लीन स्वीप करेगी। शहरी क्षेत्र में अभी हमारा प्रभार कम है, लेकिन आने वाले दिनों में हम शहरी क्षेत्र में भी अपना प्रभाव दिखाएंगे। कांग्रेस का भी 2023 में कहीं नहीं दिखाई देगी।

यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल भ्रष्टाचार में डूबी हुई है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की गाड़ी पर हमला हुआ तो तीन अधिकारियों का कैडर बदल गया, मेरे ऊपर हमला हुआ, लेकिन आज तक कुछ नहीं हुआ।

हनुमान बेनीवाल ने दावा किया कि राज्य सरकार ही नहीं, बल्कि मोदी की केंद्र सरकार भी उनके साथ दोहरा व्यवहार कर रही है जेपी नड्डा पर हमले के मामले में जहां सरकार ने तुरंत प्रभाव से कार्रवाई की, जबकि उनके सांसद होने के बावजूद किसी अधिकारी पर कोई कार्यवाही नहीं होना इस बात का पुख्ता सबूत है।