अस्पताल रोड या गांधी नगर में बनेगा कांग्रेस कार्यालय, डोटासरा के कार्यकाल में बन जायेगा नया भवन

जयपुर। कांग्रेस का राजस्थान प्रदेश कार्यालय बनाने की कवायद तेज हो गई है। जानकारी के मुताबिक जयपुर में अस्पताल रोड या गांधीनगर में कांग्रेस का नया मुख्यालय बनेगा। मुख्यालय के लिए स्थान की फाइनल करने की एक-दो दिन में पूरी कर ली जाएगी।

बताया जा रहा है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा अपने कार्यकाल के दौरान ही इस कार्यालय को बनाने के मूड में हैं। इसके साथ ही भाजपा की तर्ज पर प्रत्येक जिला मुख्यालय स्तर पर भी कांग्रेस के कार्यालय बनेंगे। वर्तमान भवन छोटा होने के कारण मुश्किलें होती हैं और नेताओं को बड़ी जगह के लिए मसक्कत करनी पड़ती है।

अत्याधुनिक होगा ऑफिस

कांग्रेस का नया कार्यालय अस्पताल रोड पर या गांधीनगर में दो सरकारी बंगलों को तोड़कर बनाया जाएगा। इस कार्यालय में भूमिगत पार्किंग होगी चुनाव के लिए भवन रूम होगा, सभी प्रकोष्ठों के लिए अलग विंग होगी और प्रदेश स्तर की बैठक के लिए बड़ा हॉल होगा।

एक-दिन में जगह फाइनल हो जाएगी

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के बीच कार्यालय की जगह को लेकर तीन-चार दौर की मीटिंग हो चुकी है, और यूडीएच मंत्री एक या 2 दिन में जगह फाइनल करके गोविंद सिंह डोटासरा को कार्यालय की जगह आवंटित करने का पत्र दे देंगे।

वर्तमान कार्यालय की जगह बहुमंजिला कमर्शियल इमारत

कांग्रेस के वर्तमान कार्यालय की जगह बहु मंजिला कमर्शियल इमारत बनाई जाएगी, जिसमें व्यवसायिक गतिविधियां होगी और उसको किराया में दिया जाएगा। उसके किराए के पैसे कांग्रेस के खाते में जाएंगे।

यह भी पढ़ें :  Video: कांग्रेस MLA ने खुली रैली में कहा, "राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार कोई काम नहीं कर रही है"

यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के कार्यालय भी बनेंगे

इसके साथ ही युवा कांग्रेस के लिए और एनएसयूआई के लिए भी कार्यालय बनाने की कवायद तेज हो गई है। अभी यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के लिए जो कार्यालय हैं, वह सभी किराए के भवनों में हैं, जिनके लिए खुद की जमीन अलॉट करके कार्यालय बनाए जाएंगे।

2012 में कवायद शुरू हुई थी

उल्लेखनीय है कि साल 2012 में कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष डॉ चंद्रभान के द्वारा कांग्रेस का मुख्यालय बदलने की तैयारी की गई थी, लेकिन बाद में वह कार्य पूरा नहीं हो सका था। सचिन पायलट के अध्यक्ष रहते भी कार्यालय बनाने की चर्चा हुई थी, किंतु फिर भी कांग्रेस का सपना अधूरा ही रह गया। अब गोविंद सिंह डोटासरा इस कार्य को पूरा करना चाहते हैं।

भाजपा बना चुकी है प्रत्येक जिले में अत्याधुनिक कार्यालय

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी के द्वारा अमित शाह के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद देशभर में अत्याधुनिक कार्य बनाने की कवायद शुरू की गई थी। राष्ट्रीय कार्यालय दिल्ली में बनाया जा चुका है। राजस्थान में भाजपा के पास पहले से ही सरदार पटेल रोड पर बड़ा कार्यालय है। इसके साथ ही प्रत्येक जिला स्तर पर भी भाजपा कार्यालय बनाने की प्रक्रिया को अंतिम रूप दे रही है। इसके चलते कांग्रेस पार्टी ने भी प्रत्येक जिलों में कार्यालय बनाने का काम शुरू कर दिया है।

कार्यालय के माध्यम से कमजोर पड़ी कांग्रेस

आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी राजस्थान में प्रदेश स्तर का बड़ा कार्यालय भवन नहीं होने और इसके साथ ही जिला स्तर पर कार्यालय भवन नहीं होने के कारण कांग्रेस पार्टी परेशान रहती है। खासकर चुनाव के दौरान प्रचार करने पर बैठकें आयोजित करने के लिए जगह नहीं होने के कारण पार्टी के बड़े नेता कई बार बड़ा मुख्यालय बनाने की मांग कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana: राजस्थान सरकार ने उठाया बड़ा कदम

भाजपा कार्यलय पर हो चुकी है रार

कांग्रेस के पार्टी सूत्रों का कहना है कि भाजपा के सरदार पटेल मार्ग पर स्थित कार्यालय के बाहर सर्विस लाइन होने के कारण पार्किंग की शानदार व्यवस्था को खत्म करने के लिए यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के द्वारा रोड चौड़ी करने की कवायद तेज की गई थी, लेकिन उसी लाइन में प्रताप सिंह खाचरियावास के करीबी लोगों के भूखंड होने के कारण दोनों मंत्रियों के बीच तकरार हो गई थी। बाद में मुख्यमंत्री गहलोत के हस्तक्षेप के बाद इस मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था।