एक बाराती ने 2 जिलों की पुलिस को कराया तमंचे पर डिस्को

जयपुर। सोशल मीडिया पर हथियार लहराते हुए डांस कर रहे एक शख्स के वीडियो नहीं राजस्थान के जोधपुर और जैसलमेर जिलों की पुलिस की परेड करा दी।

पुलिस ने भी वायरल वीडियो की सच्चाई जानने के लिए बाल की खाल निकाली तो पता चला कि वीडियो जैसलमेर के रामदेवरा थाना इलाके में शरणायत गांव में 4 दिन पहले हुई शादी का है। बारात में जो शख्स तमंचा लहरा रहा है, अकेला नहीं था, दर्जनों बारातियों ने इस शादी में तमंचे से हर्ष फायरिंग करते हुए डिस्को किया था।

एक बार फायरिंग के वायरल वीडियो का पुलिस ने पीछा शुरू किया तो कईयों के फोटो और वीडियो सामने आ गए। खुद को फंसता देख बारात में शामिल लोगों ने एक दूसरे की वीडियो और फोटो वायरल कर दिया। अब पुलिस पूरी बारात के पीछे पड़ गई है।

जानकारी में आया है कि जैसलमेर और जोधपुर जिले के बॉर्डर पर हुई इस शादी में 1-1 बाराती को पकड़कर फोटो और वीडियो से मिलान किया जा रहा है कि तमंचे पर डिस्को करने वाले कौन-कौन थे?

VideoCapture 20201230 131804

एक दूसरे की वीडियो वायरल कर रहे हैं बाराती

इस पूरे मामले में रामला के पुलिस गिरफ्त में होने और इसी दौरान उसका हथियार लहराते हुए वीडियो वायरल हो जाने पर बारात में शामिल कुछ और लोगों ने रामला के अलावा अन्य की वीडियो और फोटो वायरल कर दी, जिनमें कई लोग बारात में एक ही तरह के हथियार से अलग-अलग फायर करते हुए नजर आ रहे हैं।

इनमें कई लोग जैसलमेर जिले के तो कई जोधपुर जिले के रहने वाले हैं। ऐसे में रामदेवरा थाना पुलिस ने मामले की एफआईआर दर्ज कर जोधपुर के फलौदी थाने में पकड़े गए रामला को प्रोडक्शन वारंट पर अपने मुकदमे में गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है। अब यह पता लगाया जा रहा है कि हथियार किसका था और किस-किसने कितने फायर किए थे?

यह भी पढ़ें :  सतीश पूनिया के प्रयास से दिल्ली दंगों में जान गंवाने वाले हेड कांस्टेबल रतनलाल को मिलेगा शहीद का दर्जा

रामदेवरा थाने में दर्ज हुई प्राथमिकी

इस मामले में 24 घंटे पड़ताल करने के बाद पुलिस को सच्चाई पता लगाई। पहले फलौदी में वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में हथियार ले जाने वाले शख्स की पहचान रामला के रूप में हुई। जिसे सोमवार को फलौदी थाना पुलिस ने एक पुराने वारंट में गिरफ्तार किया था। तमंचा लहराने वाला पुलिस के शिकंजे में था, इसकी जानकारी रामदेवरा पुलिस ने तुरंत सीनियर अफसरों को दी।

आरोपी के पुलिस शिकंजे में होने की जानकारी मिलने के बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली। आरोपी रामला ने पूछताछ की गई तो उसने बताया कि 4 दिन पहले जैसलमेर के रामदेवरा थाना इलाके के शरणायत गांव में हुई एक शादी में उसने तमंचे से फायर किए थे।

वीडियो वहीं का है और उसने अकेले नहीं, बल्कि कई लोगों ने तमंचे से फायर किए थे। इस पर पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी कि हथियार किसका था? पुलिस मामले में पड़ताल कर रही थी कि एक के बाद एक कई वीडियो वायरल हो गए और सभी में ऐसी बारात में शामिल अन्य लोग भी तमंचे लहराते नजर आ रहे थे। अब रामदेवरा थाना पुलिस एफआईआर दर्ज कराई है कि किस-किसने तमंचे पर डिस्को किया था।

बारात किसी राजनीतिक पहुंच वाले व्यक्ति के रिश्तेदार की

जोधपुर और जैसलमेर बॉर्डर एरिया के करीब 20 लोग इस बारात में शामिल हुए थे। वहीं पुलिस को प्राथमिक जानकारी मिली है कि बरात इलाके के एक पॉलीटिशियन के रिलेटिव की थी, जिसमें छोटे बच्चे और महिलाएं भी शामिल थीं।

उन सबके बीच एक ही रिवाल्वर से 2 दर्जन से अधिक लोगों ने दनादन फायर की है और सारे बाराती से देखते रहे। ऐसे में बारात की वीडियो रिकॉर्डिंग और फुटेज निकलवा कर देखा गया है। जिन-जिन लोगों ने फायर की है, उन सबकी तलाश चल रही है।

यह भी पढ़ें :  ड्रग इंस्पेक्टर डॉ. नेहा सूरी की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या