राजस्थान: एक और पेपर लीक के बाद भर्ती परीक्षा रद्द

जयपुर। राजस्थान सरकार की ओर से कनिष्ठ अभियंता (सिविल) (डिग्रीधारी) संयुक्त सीधी भर्ती एक्जाम 2020 को लेकर 6 दिसंबर को आयोजित परीक्षा पेपर लीक होने के कारण रद्द कर दी गई है।

इसी दिन दो पारियों में परीक्षा आयोजित हुई थी, जिसमें पहली पारी में 12 बजे डिग्रीधारकों का एक्जाम हुआ था, जबकि दूसरी पारी में डिप्लोमाधारी अभ्यर्थियों की परीक्षा हुई थी।

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के अध्यक्ष प्रोफेसर बीएल जतावत ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि डिग्री धारी अभ्यर्थियों के लिए आयोजित परीक्षा को पेपर लीक होने के कारण रद्द कर दिया गया है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ीलाल मीणा का कहना है, “14 दिसंबर को JEN परीक्षा में पेपर आउट होने से प्रताड़ित अभ्यर्थियों के साथ शुरू किए आंदोलन का आज सुखद अंत हुआ। राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने परीक्षा रद्द कर दी है। यह सभी युवा साथियों के संघर्ष की जीत है। सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन निष्पक्ष व पारदर्शी ढंग से हो, ताकि मेहनती युवाओं का भरोसा बरकरार रहे। यदि इसमें कोई कोताही बरती गई तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।”

उल्लेखनीय है कि 6 दिसंबर को आयोजित इस परीक्षा को लेकर परीक्षा होने के साथ ही सवाल खड़े हो रहे थे। राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव ने इसको लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से जांच एसआईटी से कराने की मांग की थी।

इस परीक्षा में 1098 पदों पर करीब 50000 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था और परीक्षा दी थी, लेकिन परीक्षा रद्द होने के कारण अभ्यर्थियों का भविष्य एक बार फिर से अधर में लटक गया है।

यह भी पढ़ें :  सम्पूर्ण कर्जमाफी केवल आत्महत्या करने वाले किसानों की ही होगी

राजस्थान में एक के बाद एक भर्तियां, परीक्षा होने और परीक्षा होने से पहले ही कई रद्द हो चुकी हैं। ऐसे में राजस्थान की सरकार और इसके साथ ही राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के ऊपर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं।