वसुंधरा राजे के धुर विरोधी को भाजपा नेताओं की शुभकामनाएं

जयपुर। राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के धुर विरोधी को भारतीय जनता पार्टी के ही नेताओं के द्वारा उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दी जा रही हैं।

साल 2013 से लेकर 2018 तक, जब तक वसुंधरा राजे की सरकार थी, तब तक सदन के भीतर और सदन के बाहर उनके खिलाफ हर मोर्चे पर लड़ाई करने वाले तत्कालीन भाजपा के विधायक और 4 दिन पहले ही भाजपा में फिर से शामिल हुए घनश्याम तिवाडी का शनिवार को जन्मदिन था।

घनश्याम तिवाडी का भारतीय जनता पार्टी में वापसी करने के साथ ही 4 दिन बाद जन्मदिन आया और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया राजसमंद के सांसद दीया कुमारी समेत भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं के द्वारा उनको जन्मदिन की बधाई दी गई है।

उल्लेखनीय है कि साल 2013 से 2018 तक, जबकि वसुंधरा राजे की सरकार में घनश्याम तिवारी मंत्री नहीं थे, उन्होंने लगातार राज्य सरकार की असफलताओं और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के द्वारा बंगला नंबर 13 खाली नहीं किए जाने को लेकर जबरदस्त मोर्चाबंदी की थी।

हालांकि दिसंबर 2018 के चुनाव से पहले घनश्याम तिवाड़ी ने भारत वाहिनी नाम से अपनी खुद की पार्टी बनाकर भाजपा से इस्तीफा दे दिया था। बाद में चुनाव परिणाम में उनकी खुद की सांगानेर विधानसभा से हार हुई थी, उनकी पार्टी का कोई भी उम्मीदवार जीत नहीं सका था।

इसके साथ ही 1 मई 2019 को घनश्याम तिवाड़ी ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली थी। लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस पार्टी को सहयोग किया था। जबकि, राजस्थान की सभी 25 सीटों पर कांग्रेस पार्टी बुरी तरह से हार गई थी।

यह भी पढ़ें :  सीकर के बाद उदयपुर में दुल्हन का अपहरण