6वें एमएल मेहता मेमोरियल व्याख्यान का 7 दिसम्बर को होगा आयोजन

जयपुर। राजस्थान के पूर्व मुख्य सचिव एम एल मेहता की स्मृति में एचसीएम रीपा, जयपुर तथा एमएल मेहता फाउंडेशन की ओर से छठे मेहता मेमोरियल व्याख्यान का आयोजन सात दिसम्बर को किया जाएगा। ऑनलाइन आयोजन में केंद्र सरकार के अतिरिक्त सचिव और महानिदेशक, राष्ट्रीय सुशासन केंद्र श्रीनिवास “गुड गवर्नेंस प्रैक्टिसेस” पर व्याख्यान देंगे।

एमएल मेहता फाउंडेशन की मैनेजिंग ट्रस्टी डॉ. रश्मि जैन, ने कहा कि “स्वर्गीय एमएल मेहता को गुड गवर्नेंस पर उनकी विरासत के लिए हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने हमेशा माना है कि भागीदारी, हस्तक्षेप और पर्यवेक्षण के माध्यम से ही गुड गवर्नेंस प्रैक्टिस का पालन किया जा सकता है।”

केंद्र सरकार के अतिरिक्त सचिव और महानिदेशक, राष्ट्रीय सुशासन केंद्र श्रीनिवास ने कहा, “एमएल मेहता के अधीन काम करना हमेशा एक बहुत ही सकारात्मक अनुभव था। प्रमुख सचिव के कारण एक अधिकारी को भ्रष्टाचार से लड़ने में शक्ति मिलती थी। शासन की पारदर्शी और जवाबदेह प्रणालियों के लिए समर्थन उपलब्ध था।

कई मायनों में, 1994-97 वर्ष, राजस्थान की सिविल सेवा के लिए स्वर्णिम वर्ष थे। उन्होंने आगे कहा, एक संविधान उस दिशा को इंगित कर सकता है जिसमें हम आगे बढ़ना चाहते हैं, लेकिन सामाजिक संरचना यह तय करेगी कि हम कितनी दूर और कितनी गति से आगे बढ़ सकते हैं। एमएल मेहता राजस्थान में सुशासन की पहल के लिए एक ट्रेंडसेटर थे। ”

पिछले 30 वर्षों में राजस्थान के सबसे लंबे समय तक काम करने वाले मुख्य सचिव की गहरी प्रशंसा और कृतज्ञता को याद करने का सही अवसर होगा। श्री एम.एल. मेहता ने कहा था कि “मैं नैतिक हूं, मैं जवाबदेह हूं और मैं आईएएस हूं”। बता दें कि इस कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य सचिव निरंजन आर्य करेंगे।

यह भी पढ़ें :  जयपुर की संकरी गलियों में दौड़ेंगी मोटरसाइकिल एम्बुलेंस