चंदलाई के राम सागर बांध क्षेत्र के खेतों में पानी भरने से किसानों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखा पत्र

डाॅ. पूनियां की मुख्यमंत्री से मांग, किसानों की समस्या का हो स्थायी समाधान और मिले उचित मुआवजा

राम सागर बांध क्षेत्र में लगभग 700 बीघा जमीन में खेती नहीं कर पा रहे किसान

जयपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने चंदलाई के राम सागर बांध में पानी की ज्यादा आवक होने से किसानों के खेतों को हो रहे नुकसान के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है।

डाॅ. पूनियां ने पत्र के माध्यम से निवेदन करते हुए मुख्यमंत्री गहलोत से कहा कि किसानों की समस्या को दृष्टिगत रखते हुए शीघ्रातिशीघ्र सम्बन्धित विभाग एवं अधिकारियों को समस्या के त्वरित समाधान एवं इन प्रभावित किसानों को उचित मुआवजा दिलाये जाने हेतु आपके स्तर से दिशा-निर्देश प्रदान कराये जाने का श्रम करावें ताकि कोरोना संकट के समय इन किसानों को राहत पहुँचाई जा सके।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि जयपुर से करीब 25 किलोमीटर दूर स्थित चंदलाई गाँव के किसानों पर इस बार आजीविका का संकट खडा हो गया है। चंदलाई के राम सागर बांध में पानी की आवक ज्यादा होने के कारण किसानों की खातेदारी जमीन में पानी बढ़ रहा है, जिससे किसानों के खेत डूब गए हैं, जिसके कारण किसान अपनी खेती नहीं कर पा रहे हैं।

Screenshot 20201203 142544 Drive

चंदलाई के राम सागर बांध में किसानों की लगभग 700 बीघा जमीन में बांध का पानी आ रहा है, जिससे उनकी फसलें पानी में डूब रही हैं। प्रशासन की अनदेखी के चलते किसानों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है।

यह भी पढ़ें :  4 फरवरी के बाद बदल जाएगा दिल्ली का मिजाज, भाजपा को मिल सकता है बड़ा फायदा

डाॅ. पूनियां ने कहा कि बांध में आने वाली किसानों की खातेदारी जमीन में लगातार पानी भरने के कारण किसानों की रबी की फसल का भी नुकसान हो रहा है, जिसका सीधा प्रभाव उन किसानों की आजीविका पर पड़ रहा है।

चंदलाई के राम सागर बांध में करीब 700 बीघा जमीन में पैदावार नहीं होने के कारण किसानों को भारी नुकसान होने का अंदेशा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से किसानों की समस्या का जल्द समाधान करने और उचित मुआवजे के लिए आग्रह किया है।